comScore

सबरीमाला मंदिर केस: सभी धर्मों के मामलों को एकसाथ सुनेगी सुप्रीम कोर्ट

सबरीमाला मंदिर केस: सभी धर्मों के मामलों को एकसाथ सुनेगी सुप्रीम कोर्ट

हाईलाइट

  • 9 जजों की बेंच कर रही सुनवाई
  • सभी पक्षों के वकील आपस में चर्चा करें- बोबड़े

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के मुद्दे पर आज (सोमवार) सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सर्वोच्च न्यायालय में 9 जजों के बेंच इस मामले में सुनवाई की। मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबड़े ने कहा कि इस मामले की सुनवाई के लिए दोनों पक्षों के वकील आपस में बात करें। बोबड़े ने वकीलों को सबरीमाला और अन्य मामलों से संबंधित मुद्दों को अंतिम रूप देने के लिए तीन सप्ताह का समय दिया है। 

सुप्रीम कोर्ट ने कहा 14 नवंबर को आए समीक्षा आदेश के सवालों पर ही सुनवाई की जाएगी। मुख्य न्यायाधीश ने स्पष्ट किया कि हम पांच न्यायाधीशों की पीठ द्वारा बड़ी पीठ को भेजे गए सात प्रश्न सुन रहे हैं। बोबडे ने कहा कि 50 से अधिक समीक्षा याचिकाएं हैं। जिनमें मुस्लिम महिलाओं के मस्जिदों में प्रवेश, दाऊदी बोरा और पारसी महिलाओं से जुड़े मामलों को एक साथ सुना जाएगा। 

सीजेआई ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के वकीलों की बैठक 17 जनवरी को होगी। बैठक में तय किया जाएगा कि अदालत में पेश किए जाने वाला मुद्दा कौन-कौन से हो। उन्होंने कहा, दाऊदी बोरा समुदाय, मुस्लिम महिलाओं के मस्जिदों और पारसी महिलाओं के अग्नि मदिन में प्रवेश के सभी मामलों को एकसाथ सुना जाएगा। सर्वोच्च न्यायालय ने वकीलों को सभी मुद्दों पर आपस में चर्चा करने के लिए तीन सप्ताह का समय दिया है। 
 

कमेंट करें
ORSFg