दैनिक भास्कर हिंदी: AIMIM प्रमुख ओवैसी पर फेंका गया जूता, तीन तलाक पर कर रहे थे बात

January 24th, 2018

डिजिटल डेस्क,मुंबई। मुंबई के नागपाड़ा इलाके में एक रैली को संबोधित करने के दौरान AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर एक शख्स ने जूता फेंक दिया। हालांकि जूता असदुद्दीन ओवैसी को नहीं लगा। इसके बाद वहां मौजूद पुलिस और कार्यकर्ताओं ने उसे पकड़ लिया। नागपाड़ा पुलिस स्टेशन में उस शख्स के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। 

मुस्लिम मुक्त भारत चाहती है BJP-RSS

दरअसल असदुद्दीन ओवैसी नागपाड़ा इलाके में एक रैली को संबोधित करने गए थे। अपने भाषण की शुरुआत उन्होंने पीएम मोदी और RSS पर हमला करते हुए कहा कि वो मुस्लिम मुक्त भारत बनाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मुस्लिम युवाओं को चुनौतियों का सामना करने के लिए उनके माता-पिता को तैयार करना होगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार चाहती है कि देश में रहने वाला हर शख्स एम एस गोवलकर, के बी हेडगेवार और सावरकर की विचारधारा को फॉलो करें, लेकिन वह भूल जाते हैं कि यह सभी लोग हिंदुत्व विचारधारा के है और इसे मुस्लिम समाज स्वीकार नहीं करेंगे।

                           asaduddin owaisi shoe के लिए इमेज परिणाम


तीन तलाक के मुद्दे पर बोलने के दौरान फेंका जूता

वहीं तीन तलाक के मुद्दे पर बोलते हुए ओवेसी ने कहा कि ये बिल महिलाओं के लिए अन्यायपूर्ण है। अगर ये कानून बन जाएगा तो महिलाओं को शोषण होगा। इसी दौरान एक शख्स ने उन पर जूता फेंक दिया। इस घटना के बाद ओवैसी ने कहा कि मैं अपने लोकतांत्रिक अधिकार के लिए अपनी जान देने को तैयार हूं। ये सभी निराश लोग हैं, जो यह नहीं देख सकते हैं कि तीन तलाक पर सरकार का फैसला जनता खासतौर पर मुसलमानों ने स्वीकार नहीं किया है।’


                         तीन तलाक के लिए इमेज परिणाम

पद्मावत का विरोध 

वहीं ओवैसी ने मुस्लिम नौजवानों से पद्मावत फिल्‍म नहीं देखने की अपील की। इससे पहले भी बॉलीवुड की विवादित फिल्म 'पद्मावत' को बकवास बताते हुए AIMIM  के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिमों से कहा था कि वह इसे देखने पर समय बर्बाद न करें। वारंगल जिले में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि फिल्म देखने न जाएं, ईश्वर ने आपको दो घंटे की फिल्म देखने के लिए नहीं बनाया है।