comScore

उमा भारती के विधायक भतीजे की कार ने तीन बाइक सवारों को कुचला, मौत

उमा भारती के विधायक भतीजे की कार ने तीन बाइक सवारों को कुचला, मौत

हाईलाइट

  • हादसे के बाद परिजनों ने टीकमगढ़-छतरपुर मार्ग पर किया चक्का जाम
  • परिजनों ने कहा- हादसे के वक्त विधायक स्वयं चल रहे थे वाहन
  • हादसे के बाद विधायक के घटना स्थल से भागने का आरोप

डिजिटल डेस्क, टीकमगढ़। पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की कद्दावर नेता उमा भारती के भतीजे भाजपा विधायक की गाड़ी ने तीन बाइक सवारों को कुचल दिया। हादसे में दो की मौके पर मौत हो गई, जबकि एक ने एक ने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। टीकमगढ़ पुलिस के अनुसार बलदेवगढ़ थाना क्षेत्र के पपावनी गांव के पास सोमवार दोपहर करीब 3 बजे पजेरो जीप ने बाइक पर जा रहे तीन बाइकसवारों को टक्कर मार दी। हादसे के बाद वाहन चालक मौके से फरार हो गया। मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि हादसे के वक्त जीप को भाजपा विधायक भाजपा विधायक राहुल सिंह चला रहे थे। वहीं हादसे के बाद परिजनों और स्थानीय लोगों ने टीकमगढ़-छतरपुर मार्ग पर चक्काजाम कर दिया और भाजपा विधायक की गिरफ्तारी की मांग करने लगे।

परिजनों और मौके पर मौजूद लोगों ने आरोप लगाया कि पूर्व सीएम उमा भारती के भतीजे और खरगापुर विधायक राहुल सिंह तेज गति से वाहन दौड़ा रहे थे। उन पर एफआईआर दर्ज की जाए। बल्देवगढ़ टीआई बृजेश कहार ने बताया कि परिजनों की शिकायत पर विधायक राहुल सिंह के विरुद्ध धारा 304 ए, 279, 337, 166, 184 मोटर व्हीकल एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच में लिया गया।

पुलिस ने बताया कि रवि पुत्र नंदू अहिरवार (27) निवासी झिंनगुवा अपने साले के लड़के बृजेंद्र पुत्र रतिराम (28) व मदन अहिरवार निवासी बरेठी (19) के साथ निमंत्रण करने के लिए बरेठी गांव जा रहे थे। इसी दौरान दोपहर करीब 3 बजे पपावनी गांव के मंदिर के पास पीछे से आ रहे तेज रफ्तार पजेरो जीप ने उन्हें टक्कर मार दी। इससे रवि अहिरवार व उनके साले के लड़के बृजेंद्र अहिरवार की घटनास्थल पर ही मौत हो गई और एक अन्य बाइक पर सवार मदन अहिरवार निवासी बरेठी को गंभीर अवस्था में 108 से झांसी मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया, झांसी में इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई।

परिजनों ने हादसे के बाद विधायक के भागने का आरोप लगाया
मृतक रवि के परिजनों को हादसे की खबर मिली, तो उन्होंने चक्काजाम कर दिया। नाराज परिजनों ने शवों को पीएम के लिए ले जाने से इंकार कर दिया। मौके पर एसडीएम बल्देवगढ़ विकास आनंद व प्रभारी तहसीलदार कमलेश कुशवाह ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह किसी की बात को सुनने के लिए तैयार नहीं हुए।

मृतक रवि के भाई मनोज अहिरवार ने पुलिस से कहा कि घटना को अंजाम देने के बाद मौके से विधायक भाग गए। विधायक ने क्षेत्र के नाते बिलकुल भी मानवता नहीं दिखाई है। इससे अब जब तक विधायक पर मामला दर्ज नहीं किया जाता है, तब तक घटना स्थल से शवों को नहीं ले जाएंगे। पूर्व कैबिनेट मंत्री यादवेंद्र सिंह बुंदेला भी घटनास्थल पर पहुंचे और कहा कि मुकदमा दर्ज होना चाहिए और मृतकों के परिजनों को न्याय मिलना चाहिए।

अचानक कार पहुंची सिटी कोतवाली
देर शाम विधायक के नाम से दर्ज पजेरो जीप लेकर चालक विजय यादव कार लेकर सिटी कोतवाली थाना पहुंचा। जहां पुलिस ने उसे हिरासत में लेते हुए गाड़ी को थाना परिसर में रखवाया। लाल कलर की पजेरो कार क्रमांक एमपी 04 सीक्यू 0010, जो एमपी ट्रांसपोर्ट पोर्टल पर राहुल सिंह पिता एचपी सिंह निवासी भोपाल के नाम दर्ज है। 

मैं तो फुटेर गांव के कार्यक्रम में था
थाने पहुंचे विधायक राहुल सिंह ने कहा कि मैं तो फुटेर गांव में सुबह से ही कार्यक्रम में था मुझे विरोधियों द्वारा साजिश कर जबरन फंसाया जा रहा है।

कमेंट करें
0mTrb