comScore

UP: अयोध्या में सीएम उद्धव ठाकरे, राम मंदिर के निर्माण के लिए किया 1 करोड़ का ऐलान

UP: अयोध्या में सीएम उद्धव ठाकरे, राम मंदिर के निर्माण के लिए किया 1 करोड़ का ऐलान

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र में सरकार बनने के 100 दिन बाद उद्धव ठाकरे का पहला अयोध्या दौरा
  • राममंदिर निर्माण के लिए एक करोड़ की राशि देने की घोषणा

डिजिटल डेस्क, अयोध्या। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अपनी सरकार के 100 दिन पूरे होने पर शनिवार को अयोध्या में रामलला के दर्शन करने पहुंचे। इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी रश्मि ठाकरे और बेटे आदित्य ठाकरे भी मौजूद रहे। इस दौरान उद्धव ठाकरे ने राममंदिर निर्माण के लिए एक करोड़ रुपए देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा, अयोध्या में राम मंदिर मेरे लिए सौभाग्य की बात है।

उद्धव ठाकरे ने कहा, दो सालों में यह मेरी तीसरी अयोध्या यात्रा है। पहली बार जब अयोध्या आया था तो सरयू आरती की थी। आज भी आरती करने की इच्छा है लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते भीड़ एकत्रित करने की मनाही है, लेकिन मैं फिर आऊंगा, बार-बार आऊंगा और सरयू आरती करूंगा। बता दें कि, ठाकरे कोरोनावायरस की वजह से न तो सरयू आरती में शामिल होंगे न ही किसी प्रकार की जनसभा होगी। कोरोना वायरस के खतरे को लेकर दोनों कार्यक्रम रद्द किए गए हैं।

उद्धव ठाकरे ने ये भी कहा कि, मैं योगी जी से आग्रह करता हूं कि अगर वह हमें अयोध्या में जमीन मुहैया कराते हैं तो मैं महाराष्ट्र से आने वाले राम भक्तों के लिए यहां महाराष्ट्र भवन का निर्माण कराऊंगा।

वहीं उद्धव ठाकरे का विरोध करने वाले संतों, महंतों व हिंदू महासभा के जिला अध्यक्ष राकेशधर मिश्रा को उनके आवासों पर ही नजरबंद कर दिया गया है। सभी के आवासों के बाहर पुलिस तैनात है। हिंदू महासभा के महंत परशुराम दास भी नजरबंद किए गए। तपस्वी छावनी के संत परमहंस को उनके आश्रम में नजरबंद किया गया है। इसके साथ ही हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास को भी नजरबंद किया गया है। ये सभी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के अयोध्या दौरे के विरोध की घोषणा की थी। इन्होंने काला झंडा दिखाने का ऐलान भी किया था।

कोरोनावायरस: PM की सलाह- अफवाहों से बचें, हाथ मिलाने की बजाय करें नमस्ते

ठाकरे लखनऊ के अमौसी हवाईअड्डे पर विशेष विमान से उतरने के बाद दोपहर में करीब 1:15 बजे सड़क मार्ग से रामनगरी अयोध्या पहुंचे। वह बाईपास स्थित पंचशील होटल में रुकेंगे। उद्धव ठाकरे सरकार के मंत्री व 40 विधायक, 20 सांसद भी रामलला का दर्शन करेंगे। उनके दर्शन का समय शाम 4:30 बजे प्रस्तावित है।

मुख्यमंत्री बनने के बाद उद्धव पहली बार अयोध्या पहुंचे हैं। हालांकि, यह उनका तीसरा अयोध्या दौरा है। उद्धव ने लोकसभा चुनाव से पहले और बाद भी अयोध्या में रामलला के दर्शन किए थे। इससे पहले 2018 में लोकसभा चुनाव से पहले और फिर उसके बाद जून 2019 में उद्धव ठाकरे पार्टी सांसदों के साथ अयोध्या आए थे। उस दौरान वह महाराष्ट्र के शिवनेरी किले की मिट्टी भी अपने साथ ले गए थे। शिवनेरी छत्रपति शिवाजी महाराज का जन्मस्थान है।

कमेंट करें
RsxPy