दैनिक भास्कर हिंदी: उन्नाव रेप केस पर BJP MLA बोले, 'तीन बच्चों की मां से कोई रेप करता है क्या?'

April 12th, 2018

डिजिटल डेस्क, बलिया। उन्नाव गैंगरेप मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का बचाव करते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एमएलए ने विवादास्पद बयान दिया है। बलिया जिले के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि जिसके पिता को दो दिन पहले मारा पीटा गया हो, उससे कोई क्यों रेप करेगा। उन्होंने कहा, 'तीन बच्चों की मां से कोई रेप करता है? हम आप विवाहित हैं खुद बताइए।' विधायक सुरेंद्र सिंह ने ये भी कहा कि घटना के समय कुलदीप सिंह सेंगर वहां मौजूद नहीं थे। उन्होंने रेप की घटना को प्रायोजित बताते हुए कहा, 'मनोवैज्ञानिक आधार पर कह सकता हूं कि कोई भी तीन चार बच्चों की मां से दुष्कर्म नहीं कर सकता है। धारा 324, 325 में आसानी से जमानत मिल जाती है, इस मामले में महिला उत्पीड़न का आरोप लगाया ताकि बेल ना मिल सके।'

गौरतलब है कि बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप है कि उन्होंने एक युवती से दुष्कर्म किया और बाद में पीड़िता के पिता को विधायक समर्थकों द्वारा पीटा गया। पीड़िता के पिता की पुलिस कस्टडी में मौत होने से पुलिस की भूमिका पर भी लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं।

हालांकि इस मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर बुधवार रात करीब 11।30 बजे SSP दफ्तर पहुंचे। इस दौरान SSP अपने दफ्तर में मौजूद नहीं थे, जिस वजह से उनकी मुलाकत नहीं हो सकी। अचानक SSP के दफ्तर पहुंचना आरोपी विधायक की रणनीति का हिस्सा हो सकता है, क्योंकि हाल ही में विधायक ने राजा भैया से मुलाकात भी की थी। कानून में ऐसा कोई भी प्रावधान नहीं है कि कोई सीधे SSP दफ्तर पहुंचकर सरेंडर कर दे। सरेंडर के लिए आरोपी को कोर्ट की शरण में जाना होता है। कानून के मुताबिक कोई भी आरोपी कोर्ट में ही सरेंडर कर सकता है।

उधर इस मामले में एसआईटी ने अपनी जांच पूरी कर ली है। एसआईटी ने बुधवार शाम अपनी अंतरिम रिपोर्ट डीजीपी को सौंप दी है। इस मसले पर कांग्रेस पार्टी ने भी अपनी आवाज बुलंद करते हुए पीड़िताओं का साथ देने का वादा कर लिया है। इस मामले को लेकर कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को सीएम योगी आदित्यनाथ के घर का घेराव करने की तैयारी कर ली है। महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव के साथ प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर और अन्य नेता भी इस प्रदर्शन में शामिल होंगे

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान, SC में हो सकती है सुनवाई
इस मामले में बुधवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी खुद संज्ञान लेते हुए इस मामले की सुनवाई की तारीफ 12 अप्रैल तय की है। हाईकोर्ट ने इस मामले में यूपी सरकार से पूरी रिपोर्ट पेश करने को कहा है। गुरुवार को इस मामले की सुनवाई हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस की अगुवाई में की जाएगी। वहीं दूसरी ओर इस उन्नाव गैंगरेप केस को लेकर सुप्रीम कोर्ट में भी एक पिटीशन दायर की गई थी, जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया है। अब जल्द ही सुप्रीम कोर्ट में भी इस मामले में सुनवाई हो सकती है।