comScore

चीन में तैयार हो रही 350 फीट ऊंची बाबा साहब अंबेडकर की मूर्ति, चेहरा न मिलने से आठवले नाराज

September 29th, 2018 00:08 IST
चीन में तैयार हो रही 350 फीट ऊंची बाबा साहब अंबेडकर की मूर्ति, चेहरा न मिलने से आठवले नाराज

डिजिटल डेस्क, मुंबई। दादर स्थित इंदूमिल स्मारक के लिए बनाई जाने वाली डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की 350 फीट ऊंची प्रतिमा का चेहरा हूबहू बाबा साहब आंबेडकर की तरह नहीं दिखाई दे रहा। फिलहाल प्रतिमा चीन में तैयार हो रही है, लेकिन इसका फर्स्ट लूक केंद्रीय सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले को पसंद नहीं आया है। आठवले ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि इस प्रतिमा का चेहरा मंत्रालय के सामने स्थित डॉ आंबेडकर प्रतिमा के चेहरे जैसा ही होना चाहिए।

शुक्रवार को बांद्रा स्थित एमएमआरडीए कार्यालय में आरपीआई अध्यक्ष व केंद्रीय राज्य मंत्री आठवले ने आंबेडकर स्मारक परियोजना के कामों की समीक्षा बैठक की। शिल्पकार राम सुतार ने बताया कि आंबेडकर की 350 फीट ऊंची प्रतिमा चीन में तैयार की जाएगी। इसे भारत लाकर प्रतिमा में कुछ हिस्सा यहां जोड़ा जाएगा। उसके बाद इंदू मिल में यह प्रतिमा स्थापित कर दी जाएगी। आठवले ने कहा कि इंदूमिल में बनाए जाने वाले डॉ. बाबासाहब आंबेडकर का अंतरराष्ट्रीय दर्जे का स्मारक 6 दिसंबर 2020 तक तैयार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हालांकि स्मारक का काम फरवरी 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। लेकिन स्मारक के काम की गति को देखते हुए उम्मीद है कि दिसंबर 2020 तक इसका काम पूरा हो जाएगा। 

बैठक में आठवले ने अधिकारियों से कहा कि स्मारक के काम में किसी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने स्मारक का प्रवेशद्वार सांची स्तूप की तरह बौद्ध संस्कृति के प्रतीक के रूप में बनाने का आदेश दिया। आठवले ने कहा कि इंदू मिल की जमीन समतल बनाने का काम शुरू है। समुद्र के पानी को इंदू मिल में आने से रोकने के लिए दीवार बनाई जा रही है। आठवले ने दावा किया कि इंदूमिल में स्थापित होने वाली यह प्रतिमा विश्व में सबसे बड़ी आंबेडकर प्रतिमा होगी। डा आंबेडकर स्मारक के लिए 743 करोड़ रुपए खर्च आएगा।
 

कमेंट करें
ydpNT