comScore

बहुरानी को ढूंढ रही पुलिस : महिला ने ससुर को लगाया 25 लाख का चूना, पहली शादी की बात भी छुपाई

March 09th, 2019 19:10 IST
बहुरानी को ढूंढ रही पुलिस : महिला ने ससुर को लगाया 25 लाख का चूना, पहली शादी की बात भी छुपाई

डिजिटल डेस्क, नागपुर। बहु बनकर महिला ने बुजुर्ग को लाखों की चपत लगा दी। शेयर मार्केट में निवेश करने का झांसा देकर चल-अचल संपत्ति गिरवी कर दी, कुछ संपत्ति बेचने लगाई, मगर उसका एक भी रुपया निवेश नहीं किया और लाखों रकम लेकर भाग गई ।  प्रकरण के उजागर होने से शुक्रवार रात प्रताप नगर थाने में आरोपी महिला के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। गायत्री नगर निवासी दिगंबर क्षीरसागर 70 वर्ष पहले शेयर मार्केट में ही दलाली करते थे। उसी कंपनी में नंदिनी विजयकुमार ब्रम्हे 32 वर्ष गंगा नगर,खरबी निवासी भी काम करती थी। इससे दोनों में जान पहचान थी। बाद में दिगंबर सेवानिवृत्त हो गया। 26 सितंबर 2017 को नंदिनी दिगंबर के घर में आई और उन्हें पोर्ट फोलिया कंपनी के शेयर खरिदने पर 10 से 15 प्रतिशत मुनाफा होने का झांसा दिया। 

शयर मार्केट में निवेश का दिया था झांसा 

पहले साथ में काम करने से दिगंबर,नंदिनी से भली-भांती परिचित थे। जिससे वह नंदिनी के झांसे में आ गए और नंदिनी द्वारा बताई गई कंपनी के शेयर खरिदे, लेकिन इसमें दिगंबर को एक भी रुपए का मुनाफा नही हुआ। जब वे मुनाफे की बात करते थे, नंदिनी उन्हें कंपनी के नियमों में बदलाव आने का झांसा देकर चुप करा देती थी, लिहाजा पहले निवेश की हुई रकम को वापस पाने के लिए दिगंबर को फिर से निवेश करने के लिए नंदिनी ने दबाव बनाया। इससे आए दिन उसका दिगंबर के घर आना-जाना लगा रहता था। इस कारण दिगंबर के पुत्र से भी नंदिनी की जान पहचान हो गई। 

अच अचल संपति बेचे के लिए बनाया था दबाव 

दिगंबर का पुत्र मनपा में कार्यरत है। बाद में पुत्र और नंदिनी में हुई जान पहचान प्रेम संबंधों में बदल गई। दोनों ने शादी भी करली। बहु बनने के बाद नंदिनी ने दिगंबर पर नकदी और चल-अचल संपत्ति बेचने और गिरवी रखने के लिए दबाव बनाया। इसके लिए उसे मानसिक रुप से प्रताड़ित किया गया। दिगंबर को यह डर दिखाया गया था कि नई रकम निवेश नही करने से पूरानी निवेश की रकम डूब जाएगी। रोज रोज की प्रताड़ना से त्रस्त होकर आखिरकार दिगंबर ने प्लाट, मकान, वाहन आदी चल-अचल संपत्ति में कुछ बेची और कुछ गिरवी रखी है। इससे मिली पूरी रकम 25 लाख 5 हजार 450 नंदिनी के हवाले निवेश करने दी गई थी, लेकिन निवेश करने की बजाय शातिर नंदिनी यह रकम लेकर भाग गई।

पहली शादी की बात छुपाकर रखी

नंदिनी की दो शादियां हुई है। दिगंबर के पुत्र से शादी करने के पहले उसकी एक और शादी हुई है, लेकिन उसने यह बात दिगंबर और उसके पुत्र से छुपाकर रखी थी। शादी के बाद वह कुछ ही महीने रही है। कंपनी के काम का बहाना बनाकर हमेशा वह बाहर रही है। वर्तमान में उसके पुणे में होने का पता चला है। इस बीच प्रकरण दर्ज किया गया है। जांच जारी है।
 

कमेंट करें
sDbtN