comScore

गिरीश गांधी को जहर पिलाने वाले आरोपियों को  दस दिनों के भीतर गिरफ्तार करें : विधायक केदार

गिरीश गांधी को जहर पिलाने वाले आरोपियों को  दस दिनों के भीतर गिरफ्तार करें : विधायक केदार

डिजिटल डेस्क,नागपुर। सावनेर के केलवद ग्राम में कृषि सेवा केंद्र के संचालक गिरीश गांधी को आरोपियों ने जहर पिलाकर हत्या करने का प्रयास किया। इसकी शिकायत 14 सितंबर को केलवद थाने में की गई। आरोपी अमोल खांडेकर की अवैध निर्माण करने की शिकायत फरियादी गांधी ने ग्रापं से की थी। इस शिकायत पर गांधी के हस्ताक्षर होने से अमोल खांडेकर ने अपने अन्य साथियों को साथ लेकर गिरीश गांधी को जहर पिलाकर जान से मारने का प्रयास किया। गांधी का नागपुर के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। गिरीश गांधी विधायक केदार के कार्यकर्ता बताया जाते हैं। पुलिस में मामला दर्ज होने के बाद भी आरोपी को गिरफ्तार न करने से विधायक केदार ने 17 सितंबर को शाम 7 बजे केलवद के बाजार चौक में सभा लेकर आरोपियों को 10 दिन के भीतर गिरफ्तार न करने पर स्वयं आरोपियों को खोजकर पुलिस के हवाले करने की चेतावनी दी है। केलवद पुलिस मेें आरोपी अमोल खांडेकर सहित अन्य सात आरोपियों के खिलाफ धारा 307, 323, 504, 506, 343, 147, 349, 34 के तहत मामला दर्ज किया है। मामले की जांच जमादार राजू रेवतकर कर रहे हैं।

आरोपियों की खोज में पुलिस की टीम रवाना

फरियादी की शिकायत पर पुलिस सात आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। तभी से आरोपी फरार हैं। उनकी खोज में पुलिस की एक टीम कार्यरत है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। सुरेश मट्‌टामी, पीआई, सावनेर

डाक्टर पर हमला करने वाला गिरफ्तार, जेल रवाना

मंगलवार को कामठी के उपजिला अस्पताल में ड्यूटी पर कार्यरत डाक्टर पर हमला करने वाले व्यक्ति को कामठी पुलिस ने बुधवार की सुबह गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां न्यायालय से उसकी सीधे जेल रवानगी का फरमान जारी कर दिया गया।

बता दें कि, मंगलवार की दोपहर करीब 1 से 1.30 बजे के बीच कामठी के उपजिला अस्पताल में अाकास्मिक विभाग में कार्यरत डा. राजेशकुमार द्विवेदी से मामूली बात को लेकर अस्पताल में आए परिजन के पिता आजाद नगर निवासी साजिद खान वल्द अनवर खान (37) ने हाथापायी कर उन्हें चोट पहंुचाई थी। जिसके बाद अस्पताल के अन्य निवासी डाक्टर तथा अन्य कर्मचारियों के साथ इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने कामठी के जूना पुलिस थाना पहंुचकर हमलावर के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर उसे गिरफ्तार करने की मांग की थी।

घटना के बाद से ही हमलावर और उसका नाबालिग बेटा फरार था। पुलिस ने बुधवार की सुबह आरोपी काे उसी के परिसर से गिरफ्तार कर बुधवार को न्यायालय में पेश किया। आरोप संगीन हाेने से न्यायालय ने उसे सीधे जेल रवानगी का फरमान जारी कर दिया। 

कमेंट करें
1w072