comScore

घरेलू कलह में पत्नी को जिंदा जलाने का प्रयास , सास और साली से हाथापाई

घरेलू कलह में पत्नी को जिंदा जलाने का प्रयास , सास और साली से हाथापाई

डिजिटल डेस्क,नागपुर। घरेलू कलह इस कदर बढ़ गया कि गुस्से में आग बबूला शख्स ने अपनी  पत्नी को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया ,जबकि उसकी मां और भाई से हाथापाई की गई है। घटित प्रकरण से शुक्रवार को आरोपी पति समेत परिवार के चार सदस्यों के खिलाफ पांचपांवली थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। अशोक नगर,गोंड़ मोहल्ला निवासी दुर्गा उईके 26 वर्ष की करीब तीन से चार वर्ष पहले बस्ती में ही रहने वाले विक्की बुध्देसिंह उईके 30 वर्ष से प्रेम विवाह हुआ ।

जानकारी के अनुसार विक्की मजदूरी करता है। शादी के बाद कुछ दिन हंसी- खुशी से बीते। इस बीच दुर्गा दो बच्चों की मां बन गई। घर खर्च बढ़ने से देानों में आए दिन अनबन होने लगी। गुस्से में आकर कई बार विक्की उसकी पिटाई कर देता था। राेज रोज की कलह से त्रस्त होकर दुर्गा अपने दोनों बच्चों को लेकर 27 अक्टूबर को मां-बाप के घर आ गई। इसके दो दिन बाद ही विक्की अपने भाई विश्वास बुध्देसिंह उईके (33 ), सास आलोकी बुध्देसिंह उईके (50 ) और ननद मथुरा के साथ ससुराल में आ धमका। घर छोड़कर आने से विक्की और उसके परिजनों ने दुर्गा,उसकी मां और भाई से विवाद किया।

दोनों पक्षों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर चलने से कुछ समय के लिए तनाव का माहौल भी बना रहा। इस बीच तैश में आकर विक्की ने दुर्गा के दोनों हाथ पकड़े,जबकि उसके भाई विश्वास ने दुर्गा के शरीर पर केरोसिन डाल दिया और उसे आग के हवाले किया। दुर्गा को जलता हुआ देखकर उसकी मां और भाई ने बीच बचाव करने का प्रयास किया तो आरोपियों ने उनसे भी हाथापाई की। इस बीच किसी ने घटित प्रकरण की सूचना पुलिस को दी। उपनिरीक्षक गोड़बोले सह दल बल मौके पर पहुंचे,लेकिन पुलिस पहुंचने के पहले ही विक्की परिवार के साथ भाग गया था। उसके और घटित प्रकरण में शामिल परिवार के अन्य लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। इस बीच गंभीर रुप से झुलसी अवस्था में दुर्गा को मेयो अस्पताल में भर्ती किया गया है। 

कमेंट करें
0iCOd