comScore

मिड डे मील में  में मिलीं इल्लियां, बच्चों के स्वास्थ्य से खिलवाड़

मिड डे मील में  में मिलीं इल्लियां, बच्चों के स्वास्थ्य से खिलवाड़

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  स्कूल और आंगनवाड़ियों में बच्चों को पोषण आहार दिया जाता है। पोषण आहार में इल्लियां मिलने से बालकों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किए जाने की दो घटनाएं शहर में सामने आई हैं। एक स्कूल और एक आंगनवाड़ी में भोजन में इल्लियां मिलने से पालकों में रोष है। पोषण आहार अधीक्षक ने इल्लियां युक्त भोजन का निरीक्षण कर मनपा प्रशासन को रिपोर्ट भेज दी है।

प्रतापनगर प्राथमिक स्कूल और बालाभाऊपेठ हनुमान मंदिर समीप विठोबा उस्ताद अखाड़ा में भरने वाली आंगनवाड़ी में बच्चों को पोषण आहार की खिचड़ी परोसी गई। प्रताप नगर स्कूल में खिचड़ी में इल्लियां मिलने की शिकायत मुख्याध्यापक श्रावण सुरकर ने पोषण आहार अधीक्षक गौतम गेडाम से की। वहीं, आंगनवाड़ी की शकायत पालक कमलेश सिर्सिकर ने महापौर से की है। पोषण आहार अधीक्षक को शिकायत मिलने पर वे प्रताप नगर स्कूल पहुंचे। उन्होंने खिचड़ी का निरीक्षण कर इल्लियां युक्त भोजन बच्चों को परोसे जाने की रिपोर्ट मनपा प्रशासन को भेज दी है। 

रिपोर्ट भेज दी है, प्रशासन कार्रवाई करेगा 

प्रताप नगर प्राथमिक स्कूल में बच्चों को परोसे गए पोषण आहार की गुणवत्ता निकृष्ट दर्जे की पाई गई। खिचड़ी के निरीक्षण में इल्लियां मिलीं। इसकी रिपोर्ट मनपा के शिक्षणाधिकारी को भेज दी गई है। मनपा प्रशासन की ओर से आगे की कार्रवाई की जाएगी। -गौतम गेडाम, अधीक्षक, शालेय पोषण आहार योजना

जाली दस्तावेज से 60 हजार की धोखाधड़ी

दो आरोपियों ने मिलकर एक व्यक्ति को प्लाट के जाली दस्तावेज के सहारे 60 हजार की धोखाधड़ी की है। खुलासा होने पर फरियादी ने आरोपियों के खिलाफ जरीपटका थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। आरोपी गंगाधर चरणदास मेश्राम (47) व शीला गोवर्धन सांगोडकर (45) निवासी नवनीत नगर वाड़ी है। गंगाधर ने शीला की मदद से फरियादी सचिन शंकर धारगावे (38) निवासी बेझनबाग मॉडल टाउन नागपुर को 14 लाख 60 हजार रुपए कीमत बताकर एक प्लाट दिखाया। उसके बाद 60 हजार रुपए एडवांस लेकर जाली दस्तावेज दिए। कुछ दिनों बाद आरोपियों द्वारा दिए गए दस्तावेज जाली होने का खुलासा हुआ। उसके बाद फरियादी ने इसकी शिकायत थाने में की। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

कमेंट करें
VEN5k