comScore

चुनाव निपटे, चुनाव का हिसाब लगाने में जुटे अधिकारी

चुनाव निपटे, चुनाव का हिसाब लगाने में जुटे अधिकारी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। विधानसभा चुनाव भले ही निपट गए हों, लेकिन अधिकारी अभी भी चुनाव ड्यूटी में लगे हुए हैं। अधिकारी चुनाव ड्यूटी में होने से लाभार्थियों को दो महीने से अनुदान नहीं मिल सका है। सितंबर व अक्टूबर का अनुदान नवंबर के चाैथे सप्ताह मिल सकता है। नागपुर जिले में 2 लाख से ज्यादा लाभार्थी हैं। शहर में 1 लाख 15 हजार से ज्यादा व ग्रामीण में 85 हजार से ज्यादा लाभार्थी हैं। लाभार्थी को हर महीने 6 सौ रुपए अनुदान मिलता है। जिन विधवाओं को 25 साल से कम आयु की संतान है, उन्हें हर महीने 9 सौ रुपए अनुदान मिलता है।

विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के बाद से जिले के कई अधिकारी चुनाव ड्यूटी में व्यस्त थे। अब कोई प्रत्यक्ष तो कोई अप्रत्यक्ष रूप से चुनाव ड्यूटी में लगा है। विधानसभा चुनाव भले ही निपट गए, लेकिन चुनावी खर्च का लेखा-जोखा जोड़ने-घटाने का काम अभी भी अधिकारी कर रहे हैं। संजय गांधी निराधार योजना के प्रमुख का ऐन चुनाव के पहले पदोन्नति पर गड़चिरोली जिले में तबादला हो गया। उनकी जगह पर जो महिला अधिकारी आईं, वह चुनाव ड्यूटी में व्यस्त हो गईं। नायब तहसीलदार की ड्यूटी भी चुनाव में लग गई।

समय पर दस्तावेज पूरे नहीं हो सके
अधिकारी चुनाव ड्यूटी में लगने से जरूरी दस्तावेज समय पर पूर्ण नहीं हो सके। लाभार्थियों को सितंबर व अक्टूबर का अनुदान नहीं मिला। कार्यालयीन कर्मचारी अब सितंबर व अक्टूबर के बिल संबंधी प्रक्रिया पूरी कर रहे हैं। ये बिल संबंधी दस्तावेज कोषागार कार्यालय पहुंचेंगे। वहां इसकी जांच-पड़ताल होगी आैर वहां से हरी झंडी मिलने के बाद संबंधित लाभार्थियों के बैंक खाते में अनुदान जमा होगा। इन सारी प्रक्रियाआें को तीन सप्ताह से ज्यादा का समय लग सकता है। लाभार्थियों को सितंबर व अक्टूबर का अनुदान नवंबर के चौथे  सप्ताह मिल सकता है। 

कुछ-कुछ विभागों में नहीं पहुंचा अनुदान 
हम पूरी तरह चुनाव ड्यूटी में लगे थे। चुनाव ड्यूटी में लगे होने से इस बारे में पूरी जानकारी नहीं है। जहां तक जानकारी है, कुछ-कुछ िवभागों के लाभार्थियों को ही अनुदान नहीं मिला है। अभी इस बारे में ज्यादा बताया नहीं जा सकता, लेकिन कार्यालय में बड़े बाबू ही सही स्थिति बता सकते हैं। जरूरी प्रक्रिया पूरी की गई है। 
-अश्विनी जाधव, नायब तहसीलदार, संजय गांधी निराधार योजना नागपुर

कमेंट करें
Vnsur