comScore
Dainik Bhaskar Hindi

क्या होती है कीटो डाइट, जिसे फॉलो कर आप पा सकते हैं फिट बॉडी

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 09th, 2019 19:44 IST

2.3k
0
0
क्या होती है कीटो डाइट, जिसे फॉलो कर आप पा सकते हैं फिट बॉडी

डिजिटल डेस्क। वजन बढ़ना आज कल की आम समस्याओं में से एक है। यदि आप वजन कम करना चाहते हैं, तो इसके लिए कीटो डाइट का सेवन करें। कीटो डाइट कार्बोहाइड्रेट, फैट और प्रोटीन का कॉम्बिनेशन होता है। इस डाइट को वजन और कद के हिसाब से लिया जाता है। कीटो डाइट में कार्बोहाइड्रेट का कम सेवन किया जाता है। जिसे कीटोटिस के नाम से भी जाना जाता है। कीटोसिस शरीर की मेटाबोलिक स्थिति है। जिसमे कार्बोहाइड्रेट की जगह फैट को एनर्जी के रूप में उपयोग करता है, इसलिए वजन को कम करने में कीटो डाइट कारगर साबित होती है।

क्या खाएं- क्या न खाएं

इस डाइट में सिर्फ हैल्दी और हाई फैट को ही शामिल किया जाता है। हाई फैट जैसे पनीर, मांस, क्रीम, अंडे, स्टार्च वाली सब्जियां, हैल्दी फैट में घी, चीज़, मूंगफली तेल, नारियल तेल आदि को शामिल किया जाता है। इसमें 20-25% प्रोटीन 65-70%फैट और सिर्फ 5% कार्बोहाइड्रेट होता है। इस डाइट में किसी भी तरह के कार्बोहाइड्रेट से भरपूर उत्पाद या स्टार्च का सेवन नहीं करते जैसे- अनाज, पास्ता, रोटी, आलू, सेम आदि। इसमें चीनी भी कम मात्रा में ली जाती है। कीटो डाइट में फलों में सेब, केला, संतरा आदि को शामिल नहीं किया जाता। 


कीटोजेनिक डाइट वजन घटाने में मदद करता है। सोनाक्षी सिन्हा, कॉमेडियन तन्मय भट्ट हुमा कुरैशी जैसे सेलेब्रिटी भी कीटो डाइट लेते हैं। जब हम अधिक कार्बोहाइड्रेट वाला खाना खाते हैं तो शरीर में ग्लूकोज ओर इंसुलिन बनने लगता है। ग्लूकोज को शरीर ऊर्जा में बदल देता है, इसलिए खाने में मौजूद फैट आपका शरीर इखट्टा कर लेता है वही कीटो डाइट में कार्बोहाइड्रेट का सेवन कम कर फैट से ऊर्जा प्राप्त की जाती है। इस प्रोसेस को कीटोसिस कहा जाता है। कीटो डाइट में फैट का सेवन ज्यादा प्रोटीन का मीडियम और कार्बोहाइड्रेट का सेवन सबसे कम किया जाता है।

 
कीटो डाइट के फायदे

कीटो डाइट का सेवन करने से शरीर मे इन्सुलिन की मात्रा बढ़ती है। जिस से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है। साथ ही कोलेस्ट्रॉल भी कंट्रोल में रहता है। कीटो डाइट में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होने के कारण आप वजन को कंट्रोल कर सकते हैं। हाई- फैट डाइट खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में लो- फैट डाइट की तुलना में मदद करती है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download