comScore

पति ने पत्नी को जहर पिलाया, सवारी को लेकर ऑटो चालक भिड़े

पति ने पत्नी को जहर पिलाया, सवारी को लेकर ऑटो चालक भिड़े

डिजिटल डेस्क,नागपुर। महिला समेत दो लोगों की हत्या का प्रयास हुआ है। गणेशपेठ थानांतर्गत सवारी को लेकर हुए विवाद में जहां दो ऑटो रिक्क्षा चालकों ने एक ऑटो चालक को जान से मारने का प्रयास किया है,वहीं यशोधरा में भी शराबी ऑटो चालक ने कीडे़ मारने का जहर पिलाकर पत्नी को जान से मारने का प्रयास किया है। घटित प्रकरणों के उजागर होने से संबंधित थानों में आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किए गए है।

बजरंग नगर निवासी जख्मी दिनेश सखाराम गाड़गे (44 ) ऑटो रिक्क्षा चालक है,जबकि आरोपी राकेश कुरैशी (28 ) विश्वकर्मा नगर और शुभम (25 )सोमवारी क्वार्टर निवासी भी आटो रिक्शा चालक ही है। एक ही पेशे से जुड़े होने के कारण उनमें जान पहचान है।  14 तारीख को बस स्थानक के सामने ही सवारी भरने को लेकर उनमें विवाद हुआ था। इसी बात को लेकर मंगलवार की शाम को भी पौने पांच बजे बस स्थानक के गेट पर ही फिर से राकेश और शुभम ने दिनेश से विवाद किया।

प्रकरण के तूल पकड़ने से राकेश ने दिनेश के दोनों हाथो को पीछे कर पकड़ा,जबकि शुभम ने चाकू से सपासप उस पर वार किए। घटित प्रकरण में उसे जान से मारने का प्रयास किया गया है। सूत्रों के अनुसार बस स्थानक के सामने सवारिया भरने को लेकर आटो चालक में प्रतिस्पर्धा लगी रहती है। जिसकी वजह से यह घटना हुई है। इससे उनमें गैंगवार भड़क ने की भी आशंका जाहिर की जा रही है। घटना के बाद दोनों आरोपी नागपुर से भाहर भाग गए हैं। उनकी तलाश से पुलिस दल को भी रवाना किया गया है। सहायक उपनिरीक्षक भास्कर जांच कर रहे हैं।

तीन दिन भूखा रखा 

हत्या के प्रयास की दूसरी वारदात यशोधरा नगर थानांतर्गत हुई है। जख्मी अश्विनी देवेंद्र रामटेके (24 )पवन नगर निवासी है। वर्ष 2017 में उसकी शादी सामाजिक रीतिरिवाजों के अनुसार ऑटो रिक्शा चालक देवेंद्र उदासरामजी रामटेके (27 ) से हुई। देवेंद्र शराब का आदि है। कमाई का आधे से ज्यादा हिस्सा वह शराब में ही उड़ा देता है। इसके बाद रुपए के लिए अश्विनी को परेशान करता है। इसको लेकर हुए विवाद में कई बार उसने पत्नी की पिटाई की है।

7 सितंबर को भी उनमें विवाद हुआ था। मारने की धमकी दी थी। इसके बाद तीन दिनों तक उसे भूखा-प्यासा रखा गया। इसी दौरान देवेंद्र ने कीड़े मारने की जल्लाद नामक जहरीली दवा पानी में मिलाकर अश्विनी को पिलाया। इसका पता चलते ही अश्विनी जहर पी हुई हालत में जब देवेंद्र के खिलाफ शिकायत देने थाने में जा रही थी तो बीच रास्ते में गश खाकर गिर पड़ी। किसी ने फोन कर संबंधित थाने को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने गंभीर हालत में अश्विनी को मेयो अस्पताल में भर्ती किया। उसके बाद रिश्तेदारों ने उसे निजी अस्पताल में भर्ती किया था। मंगलवार को ही अस्पताल से उसे छुट्टी हुई है। इसके बाद बुधवार को उसने पति के खिलाफ शिकायत दी है। घटना में उसे भी पति ने जान से मारने की कोशिश की है। घटित प्रकरण के बाद से आरोपी पति देवेंद्र फरार है। जांच जारी है। 

कमेंट करें
chUJO