comScore

त्रिपुरा: भारी बारिश और बाढ़ से बेघर हुए सैकड़ों लोग, राहत कार्य में जुटी NDRF

त्रिपुरा: भारी बारिश और बाढ़ से बेघर हुए सैकड़ों लोग, राहत कार्य में जुटी NDRF

हाईलाइट

  • त्रिपुरा के उनाकोटी और धलाई जिले में बाढ़ का कहर
  • 700 से अधिक लोगों ने राहत शिविरों में ली शरण
  • राहत बचाव कार्य में जुटी NDRF और TSR की टीम

डिजिटल डेस्क, अगरतला। त्रिपुरा के कई जिलों में भारी बारिश और बाढ़ ने जमकर तबाही मचाई है। उत्तरी त्रिपुरा, उनाकोटी और धलाई जिलों में सैकड़ों लोग बाढ़ से बेघर हो गए हैं। यहां शुक्रवार से हो रही बारिश के कारण 700 से ज्यादा लोगों को राज्य के राहत शिविरों में शरण लेनी पड़ी है। वहीं NDRF और TSR की टीम राहत बचाव कार्य में जुटी हुई है। 

जानकारी के मुताबिक भारी बारिश और बाढ़ के कारण उनाकोटी और धलाई में लगभग 100 से ज्यादा घर बर्बाद हो गए हैं। 1000 से ज्यादा परिवार इससे प्रभावित हुए हैं। राहत बचाव कार्य जारी है। राज्य सरकार के राजस्व विभाग ने कुल 40 नावों को प्रभावित इलाकों से लोगों को बचाने में लगाया है। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) और त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (TSR) की टीम भी राहत अभियान में शामिल हैं। 

इसके अलावा, फायर फाइटर टीम, जिला और राज्य प्रशासन भी बचाव कार्य में जुटा हुआ है। प्रभावित परिवारों को उनके सामान के साथ सुरक्षित स्थानों पर ले जाया जा रहा है। अधिकारियों के मुताबिक, अभी तक किसी के भी हताहत होने की कोई खबर नहीं है। राज्य आपदा अभियान केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक राहत शिविरों में शरण लेने वाले लोगों में से 358 उनाकोटी जिले और 381 उत्तरी त्रिपुरा से हैं।

उनाकोटी जिले में शनिवार दोपहर मनु नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया था। मौसम विभाग ने आशंका जताई है कि राज्य में बारिश और आंधी रविवार को भी जारी रहेगी। इस बीच मौसम विभाग ने अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, मणिपुर, मिजोरम और नागालैंड में भी अच्छी बारिश की भविष्यवाणी की है।

कमेंट करें
Nq4Hd