comScore
Dainik Bhaskar Hindi

गर्व की मुस्कान के साथ #MissWorld मानुषी पहुंचीं हिन्दुस्तान, हुआ ग्रैंड वेलकम

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 26th, 2017 14:49 IST

1.2k
1
0

डिजिटल डेस्क, मुम्बई। भारत को 17 साल बाद मिस वर्ल्ड का 'ताज' पहनाने वाली मानुषी छिल्लर बीती रात भारत लौंट आई हैं। इस मौके पर उनके सभी प्रशंसकों ने मु्म्बई एयरपोर्ट पर उनका ग्रैंड वेलकम किया। आपको बता दें मानुषी के एयरपोर्ट पहुंचने से कई घंटों पहले ही उनके फैंस बैनर-पोस्टर लिए उनकी आगवानी के लिए गर्मजोशी से एयरपोर्ट पहुंच गए थे। बता दें, चीन के सान्या में आयोजित हुई मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में 118 विश्व सुंदरियों को हराकर हरियाणा की रहने वाली मानुषी छिल्लर ने ये खिताब अपने नाम किया है। इस प्रतियोगिता में दूसरे नंबर पर मिस मेक्सिको रहीं, जबकि तीसरे नंबर पर मिस इंग्लैंड रहीं।

अब कई कार्यक्रमों में लेंगी हिस्सा

मानुषी मिस वर्ल्ड के बाद से ही अनेक कार्यक्रमों में वयस्त थी। अब वो 28 नवंबर को हैदराबाद में शुरु होने जा रही ग्लोबल इंटरप्रोनोयरशिप समिट (GES) का हिस्सा बनने जा रही हैं। यहां मानुषी सोनम कपूर के साथ पेनलिस्ट होंगी और 'द फीमेल इंफ्लुएंसर: एडवांसिग वुमन अपॉरच्युनिटी इन मीडिया इंडस्ट्री' पर बात करेंगी।

ये भी पढ़ें- इस सवाल के जवाब ने 'हरियाणा की छोरी' मानुषी छिल्लर को बनाया  'Miss World 2017'

गर्व की मुस्कान के साथ पहुंचीं हिन्दुस्तान

गौरतलब है कि मानुषी छिल्लर भारत की छठी महिला हैं जिनके सिर विश्व सुंदरी का ताज सजा है। मिस वर्ल्ड बनने के बाद वतन लौटने की खुशी उनके चेहरे पर साफ जाहिर हो रही थी। आपको भी जानकर हैरानी होगी कि मिस वर्ल्ड का खिताब जीतकर हिंदुस्तान का मान बढ़ाने वाली मानुषी सिर्फ 20 साल की हैं। पेशे से वो डॉक्टर बनना चाहतीं हैं और हरियाणा के सोनीपत के भगत फूल सिंह गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज फॉर वूमेन से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही हैं। वो एक मध्यमवर्गीय परिवार से ताल्लुक रखती हैं और पेशे से उनके माता-पिता भी डॉक्टर हैं। 

इस सवाल ने जिताया खिताब

मिस इंडिया के फाइनल राउंड में मानुषी छिल्लर से जब सवाल पूछा गया कि किस प्रोफेशन को सबसे ज्यादा सैलरी मिलनी चाहिए और क्यों? इसके जवाब में मानुषी ने जवाब देकर सबका दिल जीत लिया था और ये खिताब अपने नाम किया था, उन्होंने इसके जवाब में कहा था कि 'मां को सबसे ज्यादा 'सम्मान' मिलना चाहिए। इसके लिए उन्हें सैलरी नहीं बल्कि सम्मान और प्यार मिलना चाहिए।'
गौरतलब है कि 1966 में पहली बार रीता फारिया भारत से पहली मिस वर्ल्ड बनीं थीं। इसके बाद 1994 में ऐश्वर्या राय, डायना हेडन ने 1997 में, युक्ता मुखी ने 1999 में और प्रियंका चोपड़ा ने साल 2000 में मिस वर्ल्ड का खिताब अपने नाम किया । 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर