comScore

 मोबाइल विक्रेता ने शादी का झांसा देकर किया दुष्कर्म

 मोबाइल विक्रेता ने शादी का झांसा देकर किया दुष्कर्म

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नंदनवन थाना क्षेत्र में मोबाइल विक्रेता द्वारा किशोरी का शारीरिक शौषण किए जाने का मामला उजागर हुआ है। घटित प्रकरण को युवती को मोबाइल दिलाकर प्रेम संबंधो में फांस लिया गया था। आरोपी व्यापारी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है।

जानकारी के अनुसार पीड़ित 17 वर्षीय किशोरी नंदनवन क्षेत्र की निवासी है। कक्षा 12 वीं के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी है। मां गृहिणी है तथा पिता निजी काम  करते हैं। फरवरी 2019 को पीड़िता ने खरबी स्थित साईबाबा नगर निवासी दीपक चिरकुटराव बारंगे (30) की दुकान से एक मोबाइल फोन खरीदा । इस मोबाइल को फाइनेंस  किया गया है। फाइनेंस करने के लिए दीपक ने किशोरी की मदद की। इससे दीपक के पास किशोरी का  मोबाइल नंबर भी आ गया। फोन के जरिए वह लगातार किशोरी के संपर्क में रहा। रोजाना दोनों घंटों फोन पर बात किया करते थे। शादीशुदा होने के बाद भी खुद को अविवाहित बताकर दीपक ने उसे प्रेम संबंधो में फांस लिया। शादी करने का वादा भी किया । इसके बाद शहर और शहर के बाहर किशोरी को घुमाने फिराने भी ले जाता रहा। 10 मार्च से 28 अगस्त 2019 के बीच उसने होटल और लॉज में ले जाकर किशोरी से कई बार उससे दुष्कर्म किया। इस बीच किशोरी को दीपक के विवाहित होने का पता चला। प्रेम संबंधो में मिले धोखे से आहत हाेकर किशोरी ने इसकी शिकायत संबंधित थाने में की । घटित प्रकरण से युवा व्यापारी दीपक के खिलाफ शुक्रवार को दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। अभी तक उसकी गिरफ्तारी होना बाकी है। सहायक निरीक्षक एस.जायभाये मामले की जांच पड़ताल कर रहे हैं।

अनेक इलाकों में चोरी की बिजली से घरों में रोशनी

जहां प्रतिमाह बढ़ते बिजली बिल से उपभोक्ता परेशान है। वहीं चोरी की बिजली से अनेक घरों में रोशनी है। बिजली चोरी रोकने की दिशा में विभाग कमजोर पड़ रहा है। शहर के अनेक इलाकों में खुलेआम बिजली चोरी हो रही है। टूट की वसूली उपभोक्ताओं के बिल में जोड़कर की जा रही है। विभाग अपनी भरपाई कर रहा है, लेकिन आम उपभोक्ता पर अतिरिक्त बोझ डालकर कमर तोड़ी जा रही है। सिद्धेश्वर नगर में कामगारों की बस्ती में अनेक घरों में अवैध बिजली कनेक्शन जोड़कर घरों को रोशन किया जा रहा है। खंभों पर हुक डालकर सीधे घरों में बिजली कनेक्शन जोड़े गए हैं। रास्ते से गुजरने पर साफ दिखाई देता है, इसके बावजूद उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती। जबकि ईमानदारी से कनेक्शन लेकर बिजली का उपयोग करने वालों से मीटर में खराबी या अन्य कोई बहाना बनाकर उनसे जुर्माना वसूल िकया जा रहा है। बिजली विभाग की दोहरी नीति से उपभोक्ताओं में रोष व्याप्त है।

कमेंट करें
gCU8Z