comScore

पाकिस्तान की जेलों में बंद है 500 से ज्यादा इंडियन, अधिकतर मछुआरे

December 20th, 2017 12:34 IST
पाकिस्तान की जेलों में बंद है 500 से ज्यादा इंडियन, अधिकतर मछुआरे

डिजिटल डेस्क, लाहौर। भारत देश के कई नागरिक वैसे तो पाकिस्तान की जेलों में अभी भी बंद हैं। पाक गृह मंत्रालय ने कहा है कि वहां की जेलों में कुल 996 विदेशी नागरिक बंद हैं जिनमें से 527 भारतीय कैदी हैं। पाकिस्तान की जेल में ही बंद कुलभूषण यादव को लेकर लंबे समय से दोनों देशों में उन्हेें रिहा किए जाने को लेकर बातचीत चल रही है। जिसका अभी तक कोई नतीजा निकलता नहीं दिखाई दिया है। कुलभूषण के परिवार वालों को आज वीजा मिलने की संभावना है। पाकिस्तान ने 10 नवंबर को 'मानवीय आधार पर' जाधव की पत्नी को उनसे (जाधव से) मिलने की अनुमति दी थी। कथित जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नौसेना के पूर्व कमांडर कुलभूषण जाधव की मां और उनकी पत्नी उनसे मिलने के लिए पाकिस्तान रवाना हो सकते हैं, 25 दिसंबर को उनकी मुलाकात हो सकती है। 


पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने ट्वीट कर इस बात की पुष्टि की थी। पाकिस्तान ने जाधव की मां और पत्नी को उनसे जेल में मिलने की अनुमति दे दी है। जाधव को पाकिस्तान की अदालत ने मौत की सजा सुनाई हुई है। पाकिस्तान विदेश कार्यालय के प्रवक्ता ने बताया कि इस मुलाकात के दौरान भारतीय उच्चायोग का एक कर्मचारी भी मौजूद रहेगा। 

दोनों देशों के बीच जल सीमा परिभाषित नहीं

बता दें कि पाक गृह मंत्रालय ने कहा है कि वहां की जेलों में कुल 996 विदेशी नागरिक बंद हैं जिनमें से 527 भारतीय कैदी हैं। इन कैदियों पर आतंकवाद, हत्या, ड्रग तस्करी और देश में गैरकानूनी तौर पर घुसने जैसे आरोप लगे हैं। जानकारी के अनुसार 500 से अधिक भारतीयों में अधिकतर मछुआरे हैं। जिन्हें अरब सागर के पाकिस्तानी जल क्षेत्र में गैरकानूनी तौर पर मछली मारने के लिए गिरफ्तार किया गया है। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि जल सीमा को दोनों देशों के बीच परिभाषित नहीं किया गया है। 


बता दें कि इससे पहले पाकिस्तान की मैरिटाइम सिक्योरिटी एजेंसी ने 55 भारतीय मछुआरों को अवैध तरीके से मछली पकड़ने के लिए हिरासत में लिया था। जिसमें एक सउदी और दो चीनी नागरिक भी शामिल हैं। दूसरी और पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने लाहौर कोर्ट को जानकारी दी है कि 9,476 पाकिस्तानी नागरिक 100 देशों की जेलों में बंद हैं। जिनमें से ज्यादातर सउदी अरब और यूएई की जेलों में हैं।
 

कमेंट करें
BD42A