comScore

एमपी, राजस्थान में 'पद्मावत' की रिलीजिंग पर SC में आज होगी सुनवाई

January 23rd, 2018 09:14 IST
एमपी, राजस्थान में 'पद्मावत' की रिलीजिंग पर SC में आज होगी सुनवाई

डिजिटल डेस्क, दिल्ली।  फिल्म पद्मावत पर बैन लगाने की मांग को लेकर मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकार सोमवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंची। इस दौरान राज्य सरकारों ने सुरक्षा का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट से अपने पिछले आदेश पर फिर से विचार करने की मांग की थी। इस मामले में आज सुनवाई होगी। आपको बता दें कि फिल्म 25 जनवरी को रिलीज होनी है।

गौरतलब है कि 25 जनवरी को देशभर में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत रिलीज होना है, लेकिन करणी सेना समेत कई संगठनों ने फिल्म की रिलीजिंग को लेकर कड़ा रुख अपना रखा है। मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात समेत देश के कई हिस्सों में संगठन हिंसा पर उतर आए हैं।

                             शिवराज वसुंधरा के लिए इमेज परिणाम

गुजरात के मेहसाणा में फूंकी बसें

गुजरात के कई इलाकों में फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन हुए हैं। मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन करणी सेना की दहशत की वजह से थियेटर्स में फिल्म दिखाने को तैयार नहीं है।करणी सेना से जुड़े लोगों ने फिल्म के खिलाफ के प्रदर्शन करते हुए गुजरात के मेहसाणा में बसों को आग के हवाले कर दिया। इतना ही नहीं 'पद्मावत' के विरोधियों ने आने जाने वाली गाड़ियों को भी रोका। इस दौरान पुलिस की कई गड़ियां मौजूद थीं, लेकिन प्रदर्शनकारियों के आगे उनकी एक नहीं चली। हालात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रशासन ने मेहसाणा से निकलने वाली बसों को डिपो में ही रोक दिया।

                          मेहसाणा में बस फूंकी के लिए इमेज परिणाम

जयपुर में महिलाओं ने दी जौहर की धमकी

संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावत के विरोध में महिलाओं ने जौहर करने की धमकी दी है।  चित्तौड़गढ़ में हुई सर्व समाज की बैठक में महिलाओं ने साफ कहा कि यदि देश में कहीं भी 'पद्मावत' रिलीज हुई, तो महिलाएं जौहर करेंगी। फिलहाल बात करने पर इन महिलाओं ने अपने स्टेंड पर अड़े रहने की ही बात कही है।

                          जयपुर में महिलाओं ने जौहर की दी धमकी के लिए इमेज परिणाम


भंसाली के खत से भी नहीं मानीं करणी सेना

संजय लीला भंसाली ने अपनी विवादित फिल्म 'पद्मावत' को लेकर करणी सेना को एक खत भी लिखा है। इसमें भंसाली ने करणी सेना से यह फिल्म देखने की अपील की है। उन्होंने खत में लिखा है कि करणी सेना पहले उनकी फिल्म 'पद्मावत' देखें, उसके बाद कोई राय बनाएं। इस बात की जानकारी करणी सेना संरक्षक लोकेन्द्र सिंह कालवी ने खुद दी है। उन्होंने जयपुर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया है कि संजय लीला भंसाली की ओर से फिल्म देखने का निमंत्रण मिला है लेकिन वे फिल्म देखने नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा है, 'करणी सेना पद्मावत फिल्म को लेकर अपने रूख पर कायम रहेगी। 25 जनवरी को फिल्म की रिलीज के विरोध में भारत बंद रहेगा। हम फिल्म की होली जलाएंगे।'

                             भंसाली ने करणी सेना को लिखा खत के लिए इमेज परिणाम

सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों से बैन भी हटाया

गुजरात के अलावा राजस्थान, मध्य प्रदेश और हरियाणा की सरकार ने फिल्म पर रोक लगा दी थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट इन राज्यों में लगे बैन को हटाया बल्कि ये भी कहा कि दूसरे राज्य इस फिल्म पर रोक लगाने का आदेश नहीं दें। इसी के चलते मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकारें सोमवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंची थीं।

                      सुप्रीम कोर्ट के लिए इमेज परिणाम
 

25 जनवरी को रिलीज हो रही है फिल्म

25 जनवरी को फिल्म की रिलीज डेट तय है, जिसके लिए अन्य फिल्मों ने भी अपनी रिलीज डेट बदल ली है। सेंसर बोर्ड ने फिल्म को U/A सर्टिफिकेट दे दिया है। जिसमें फिल्म के बदलावों का जिक्र भी है। घूमर गाने में भी दीपिका की कमर को वीएफएक्स से छिपा दिया गया है। फिल्म का नाम भी 'पद्मावती' से 'पद्मावत' कर दिया गया। कुछ आपत्तिनजक शब्दों को भी हटा लिया गया है। फिल्म में डिस्कलेमर का इस्तेमाल होगा कि फिल्म सती प्रथा का समर्थन नहीं करती है। इसके बाद भी विरोध जारी है।

कमेंट करें
09KMl