comScore

पाकिस्तान : ट्रेन में जले शवों की पहचान के लिए होगा डीएनए परीक्षण


हाईलाइट

  • कराची-रावलपिंडी तेजगाम एक्सप्रेस ट्रेन धमाका
  • हादसे में 74 लोगों की मौत
  • शवों की पहचान के लिए होगा डीएनए टेस्ट

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। पाकिस्तान में एक ट्रेन में आग लगने से जलकर मरे अधिकांश लोगों के शवों की पहचान के लिए फोरेंसिक विशेषज्ञों ने डीएनए परीक्षण कराने की योजना बनाई है। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी। कराची से रावलपिंडी जा रहे एक यात्री ट्रेन में खाना पकाने वाले गैस सिलेंडर में विस्फोट के चलते आग लग गई थी।

डॉन न्यूज ने शुक्रवार को रहीम यार खान शहर के डिप्टी कमिश्नर जमील अहमद के हवाले से कहा कि परिजनों को दफनाने के लिए शव सौंपे जाने से पहले 52 जले शवों की पहचान करने के लिए डीएनए टेस्ट की आवश्यकता है। रावलपिंडी से चलने वाली तेजगाम एक्सप्रेस के तीन डिब्बे गुरुवार को हुई इस त्रासदी में पूरी तरह से नष्ट हो गए थे, जिसके चलते कम से कम 74 लोगों की मौत हो गई थी।

अधिकांश पीड़ित पाकिस्तान के सबसे बड़े धार्मिक समारोहों में से एक वार्षिक तब्लीगी इज्तिमा में भाग लेने के लिए यात्रा कर रहे थे। इस समारोह में हर साल लाहौर के बाहर एक गांव में चार लाख लोग जुटते हैं, जो एक साथ दुआएं करते हैं, खाते-पीते और साथ सोते हैं।

कमेंट करें
DHtrP