comScore

नागपुर स्टेशन पर एक ही समय पर आने वाली गाड़ियों में अक्सर लोग बैठकर कहीं और पहुंच जाते हैं - जानिए कैसे होती है गफलत

January 08th, 2019 17:09 IST
नागपुर स्टेशन पर एक ही समय पर आने वाली गाड़ियों में अक्सर लोग बैठकर कहीं और पहुंच जाते हैं - जानिए कैसे होती है गफलत

डिजिटल डेस्क, नागपुर। हाल ही में गलत ट्रेन में बैठी मां-बेटी ने चलती ट्रेन से उतरने के चक्कर में गाड़ी से छलांग लगा दी थी। इस हादसे में मां की मौत हो गई थी, जबकि बेटी गंभीर रूप से जख्मी हुई थी। दरअसल, यह हादसा एक ही नाम की दो ट्रेनों के यहां एक ही समय पर आने के कारण हुई। मुख्य रूप से ऐसी ट्रेनों में जीटी एक्सप्रेस, तमिलनाडु एक्सप्रेस व शालीमार एक्सप्रेस शामिल हैं। जिस पर जल्दबाजी में बैठकर यात्री कहीं और निकल जाते हैं। इसके अलावा दिन भर नागपुर स्टेशन पर आधा दर्जन गाड़ियां ऐसी आती हैं, जिसके नाम एक होते हैं। ऐसे में स्टेशन पर आने वाले यात्रियों को समझदारी से काम लेते हुए अपनी गाड़ी में ही चढ़ना चाहिए। 

निकल जाते हैं कहीं और
नागपुर स्टेशन पर रोजाना 125 से ज्यादा गाड़ियों का आवागमन रहता है। दिन भर सभी 8 प्लेटफार्म गाड़ियों के आवागमन से व्यस्त रहते हैं। पटरियों के बगल में लगे कोच इंडिकेटर में गाड़ियों की स्थिति भी दिखाई जाती है, लेकिन एक ही समय पर अलग-अलग दिशा से आनेवाली एक ही नाम की गाड़ियां यात्रियों को दुविधा में डाल देती हैं। कोच डिस्प्ले पर केवल गाड़ी का नाम देख या किसी अन्य यात्री से गाड़ी का नाम पूछ यात्री गाड़ी में चढ़ जाते हैं। ऐसे में उन्हें कहीं ओर जाना होता है, लेकिन निकल जाते हैं कहीं और।  

वे गाड़ियां, जो गलतफहमी पैदा करतीं हैं
दोपहर 12.20 को ट्रेन नंबर 12615 चेन्नई-नई दिल्ली जीटी एक्सप्रेस प्लेटफार्म नंबर 1 पर आती है। ठीक इसी वक्त प्लेटफार्म नंबर 2 पर 12616 नई दिल्ली-चेन्नई एक्सप्रेस पहुंचती है। 
प्लेटफार्म नंबर पर दोपहर 2.10 बजे ट्रेन नंबर 12621 चेन्नई-नई दिल्ली तमिलनाडु एक्सप्रेस पहुंचती है। ठीक इसी समय पर 12622 नई दिल्ली-चेन्नई तमिलनाडु एक्सप्रेस भी पहुंचती है। 
ट्रेन नंबर 18029 एलटीटी-शालीमार एक्सप्रेस दोपहर 1.20 बजे प्लेटफार्म नंबर 3 पर आती है। इसी वक्त 2 नंबर पर एलटीटी से शालीमार जानेवाली शालीमार एक्सप्रेस पहुंचती है। 

कमेंट करें
S6OqY