comScore

निवृत्त कर्मचारी संगठन ने 9 हजार पेंशन व मांगा महंगाई भत्ता, दिया धरना

निवृत्त कर्मचारी संगठन ने 9 हजार पेंशन व मांगा महंगाई भत्ता, दिया धरना

डिजिटल डेस्क, नागपुर। सरकार ने केन्द्रीय कर्मचारियों का हाल ही में महंगाई भत्ता 5 फीसदी बढ़ाने की घोषणा की है। दूसरी ओर 186 उद्योगों के सेवानिवृत्त व अन-ऑर्गनाइज्ड सेक्टर के केन्द्रीय कर्मचारियों की सालों से सुनवाई नहीं हो रही है। 9 हजार पेंशन और महंगाई भत्ता को लेकर गुरुवार को उमरेड रोड स्थित शीतला माता मंदिर के पास निवृत्त कर्मचारी (1995) समन्वय समिति (राष्ट्रीय संगठन) के नेतृत्व में धरना आंदोलन किया गया। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रकाश येंडे, महामंत्री प्रकाश पाठक, राष्ट्रीय सचिव प्रकाश दामले, सचिव श्याम देशमुख, कोषाध्यक्ष अरूण कारमोरे, सलाहकार तुकाराम झोड़े, मधुकर वनकर आदि ने प्रादेशिक भविष्य निधि आयुक्त को अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर बड़ी संख्या में सेवानिवृत्त कर्मचारी उपस्थित थे।

24 साल से कर रहे अनदेखा
महामंत्री प्रकाश पाठक ने बताया कि केन्द्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाने के लिए सरकार के पास पैसा है, लेकिन हमारे लिए पैसा नहीं है। 24 साल से हमारी मांगों को अनदेखा किया जा रहा है। हमारा पैसा उनके पास है, वह हमें वापस देने का विचार नहीं करते है। देश में करीब 67 लाख सेवानिवृत्त अन-आॅर्गनाइज्ड कर्मचारी हैं। 17.20 करोड़ कर्मचारी ऐसे है जो आने वाले समय में पेंशर्न बनेंगे सरकार को हमारे बारे में सोचना चाहिए। सेवानिवृत्त कर्मचारियों की मांगों को गंभीरता से लेते हुए मांग पूरी करने का आग्रह भी महामंत्री प्रकाश पाठक ने किया है।

यह है प्रमुख मांगें 
- भगत सिंह कोशियारी कमेटी की सिफारिश पर ईपीएस 95 स्कीम को लागू करना।
- उच्च न्यायालय के 4 अक्टूबर 2016 के आदेश को बिना किसी विसंगति के लागू करना।
- ईपीएफओ नई दिल्ली के अतिरिक्त मुख्य आयुक्त श्री ठाकुर के अनुसार पेंशन पर पुनर्विचार।
- देश के वरिष्ठ नागरिक के जीवन के अधिकार के तहत संवैधानिक अधिकार का संरक्षण।
- लोकसभा के तारंकित प्रश्न क्र. 23 व सांसद के प्रश्न पर विचार। 
 

कमेंट करें
Sf8ze