comScore

पर्यावरण को बचाने पौधों को लिया गोद  

पर्यावरण को बचाने पौधों को लिया गोद  

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर में बढ़ते प्रदूषण को रोकने और पर्यावरण संरक्षण के लिए महेश कॉलोनी, चंदन नगर के निवासियों ने अनोखी पहल की है। यहां के निवासियों ने पौधों को गोद लेकर रोपण किया और पौधों की देखभाल परिवार के सदस्यों की तरह करने का संकल्प लिया है। प्रयास बहुउद्देशीय सामाजिक संस्था और महेश कॉलोनी मित्र मंडल द्वारा शनिवार को महेश कॉलोनी स्थित मैदान में पौधारोपण कार्यक्रम किया गया। कार्यक्रम में कॉलोनी निवासियों के साथ दक्षिण नागपुर के भाजपा अध्यक्ष संजय ठाकरे, प्रयास बहुउद्देशीय सामाजिक संस्था के अध्यक्ष शक्ति ठाकुर तथा प्रभाग के चारों पार्षद उपस्थित थे। 

पेड़-पौधों का हो सकेगा संरक्षण

संजय ठाकरे ने कॉलोनी निवासियों के इस महत्वपूर्ण पहल की प्रशंसा की। पार्षद शीतल कामड़े ने पौधारोपण को जरूरत बताते हुए कहा कि बढ़ते प्रदूषण को रोकने, भूजल स्तर को सुधारने के लिए इस तरह की पहल होती रहनी चाहिए। पार्षद रवींद्र भोयर ने मैदान में एक महीने के अंदर ग्रीन जिम लगाने और तीन महीने के अंदर मैदान को सुधारने का आश्वासन दिया। पार्षद सतीश होले ने कॉलोनी निवासियों द्वारा पौधों को दत्तक लेने को अनूठा पहल बताया और कहा कि इस तरह के प्रयास से पर्यावरण का संरक्षण हो सकेगा। पार्षद उषा पायलट ने भी क्षेत्र के विकास के लिए पूरा प्रयास करने की बात कही। प्रयास बहुद्देशीय सामाजिक संस्था की तरफ से समाज के विभिन्न चुनौतियों का समाधान करने हेतु संस्था निरंतर सकारात्मक प्रयास करती रहेगी यह बात अध्यक्ष शक्ति ठाकुर ने कही।

किटी में महिलाओं ने पर्यावरण संरक्षण का लिया संकल्प

दैनिक भास्कर किटी का आयोजन किटी होस्ट नीता पारेख द्वारा छापरू नगर में किया गया। रेनी सीजन में भुट्टे से बने व्यंजनों का सभी ने स्वाद लिया। रबर गेम और कैलेंडर गेम का सभी ने एंजॉय किया। किटी में महिलाओं ने पर्यावरण संरक्षण पर चर्चा करते हुए पौधारोपण भी किया। साथ ही पौधे लगाने के लिए सभी को प्रेरित किया।

स्टिक से उठानी थी रबर बैंड

किटी में रबर गेम खेला गया, जिसमें डायस से 1 से 5 नंबर था, जिसे हर अंगुली में रिंग की तरह रबर पहनना था। अगर किसी का 6 नंबर आता तो वो गेम से आउट हो जाती। इस तरह सभी को 1 मिनट का समय दिया गया। इस गेम में नीता सांघानी और पद्मा गांधी विनर रहीं। साथ ही कैलेंडर गेम खेला गया। बारिश के मौसम में भुट्टे से बने चटपटे व्यंजनों का सभी ने स्वाद लिया। 
 

कमेंट करें
MpaOz