comScore

छात्रवृत्ति मामले में दो शिक्षक सहित डीईओ, सीईओ निलंबित : कमिश्नर ने की कार्रवाई

छात्रवृत्ति मामले में दो शिक्षक सहित डीईओ, सीईओ निलंबित : कमिश्नर ने की कार्रवाई

डिजिटल डेस्क, शहडोल। आठवीं की छात्रा को कर्मकार मण्डल की छात्रवृत्ति प्राप्त नहीं होने के मामले में जिला शिक्षाधिकारी उमेश धुर्वे सहित जनपद जयसिंहनगर के सीईओ केके सोनी को कमिश्नर आरबी प्रजापति द्वारा निलंबित कर दिया गया है। वहीं इसी मामले में कलेक्टर ललित दाहिमा द्वारा शासकीय हाई स्कूल टिहकी के जन शिक्षक विनीत कुमार पटेल एव प्रधानाध्यापक सुशील कुमार द्विवेदी को निलंबित किया है।

सीएम हेल्पलाइन में पोर्टल पर शिकायत की थी

जारी निलंबन आदेश के अनुसार प्रभुदयाल यादव निवासी टिहकी ने सीएम हेल्पलाइन में पोर्टल अंतर्गत 17 अपै्रल 2018 को शिकायत की थी कि विद्यालय टिहकी में छात्रा दुर्गा यादव को आठवीं की सत्र 2017-18 एवं 2018-19 की मप्र कर्मकार मण्डल की छात्रवृत्ति प्राप्त नहीं हुई है।  समयावधि निराकरण नहीं होने के कारण शिकायत प्री एसओएल में चयनित हुई। कलेक्टर द्वारा समीक्षा में बात सामने आई कि भुगतान जनपद सीईओ द्वारा कराया जाता है लेकिन उनके द्वारा भुगतान में रुचि नहीं ली गई। सीईओ द्वारा प्रकरण को गंभीरता से नहीं लेने पर उन्हें निलंबित किया गया।

डीईओ उमेश धुर्वे ने दोनों लेबल पर संतुष्टिकारण निराकरण प्रतिवेदन पोर्टल पर दर्ज नहीं किया 

इसी प्रकार इसी मामले में डीईओ उमेश धुर्वे अब उमरिया डीईओ के बारे में पाया गया कि उन्होंने एल 2 व एल 3 अधिकारी होने के बाद भी दोनों लेबल पर संतुष्टिकारण निराकरण प्रतिवेदन पोर्टल पर दर्ज नहीं किया गया। जिसके कारण उक्त शिकायत प्री एसओएल में चयनित हुई। जिस पर कमिश्नर ने इन्हें निलंबित कर दिया।समीक्षा में बात सामने आई कि भुगतान जनपद सीईओ द्वारा कराया जाता है लेकिन उनके द्वारा भुगतान में रुचि नहीं ली गई।

बिना कार्यवाही के मामले को अनावश्यक रूप से लंबित रखा

इसी प्रकार जन शिक्षक विनीत पटेल व प्रधानाध्यापक सुशील द्विवेदी पर यह प्रमाणित हुआ कि इन्होंने 21 अपै्रल 2018 से 10 नवंबर 2018 तक बिना कार्यवाही के मामले को अनावश्यक रूप से लंबित रखा। इस लापरवाही कलेक्टर ने दोनों को निलंबित कर दिया।

कमेंट करें
prhlM