comScore

तीसरे माले से कूद कर छात्र ने दी जान, पेपर बिगड़ने से था टेंशन में, पहले भी आत्महत्या की कोशिश

तीसरे माले से कूद कर छात्र ने दी जान, पेपर बिगड़ने से था टेंशन में, पहले भी आत्महत्या की कोशिश

डिजिटल डेस्क,नागपुर।  बीबीए का पेपर बिगड़ने से तनाव में आए एक छात्र ने तीसरे माले से कूदकर आत्महत्या कर ली। घटना गुरुवार की सुबह अजनी थानांतर्गत हुई है। छात्र ने एक दिन पहले भी ब्लेड से हाथों पर वार कर आत्महत्या की कोशिश की थी, लेकिन वक्त पर अस्पताल ले जाने से उसकी जान बच गई थी। मृतक का नाम अमन बॉबी शंकर मानके (19) निवासी धाड़ीवल ले-आउट नागपुर है। घटना के दिन घर में केवल उसकी मां थी। बड़ा भाई मुंबई व पिता पटना गए थे। घरवालों ने बताया कि ऑनलाइन गेम खेलना का शौक होने से वह एकाग्रता से पढ़ाई नहीं कर पाता था। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। अमन डॉ. बाबासाहब आंबेडकर कॉलेज का विद्यार्थी था।

अमन ने तीसरे माले से छलांग लगाने पर वह परिसर के बाहर सड़क व कम्पाउंड वॉल के बीच में पड़ा था। लोगों को संदेह था कि किसी ने उसकी हत्या कर यहां फेंक गया है। हालांकि पुलिस ने शव की हालत देख आत्महत्या बताई, लेकिन लोगों का संदेह दूर करने के लिए सुयोग नगर चौक पर लगे कैमरे टटोलने पर उसमें घटना दिखाई दी, जिससे लोगों का संदेह दूर हुआ। 

तनाव में था अमन

घरवालों ने बताया कि अमन इससे पहले इंजीनियरिंग की पढ़ाई करता था, लेकिन किसी कारणवश उसने गत वर्ष बीबीए में एडमिशन लिया । 9 अक्टूबर को उसका पेपर था। पेपर बिगड़ जाने से वह तनाव में था। उसने पहले अपने कमरे में हाथों पर ब्लेड से वार कर खुद को खत्म करने की कोशिश की, लेकिन उसकी मां को इसका पता चलते ही उसने पड़ोसियों को बुला लिया था। उसके चचेरे भाइयों ने उसे रात में निजी अस्पताल में इलाज कराया था। रात 12 बजे सबने उसे घर छोड़कर काफी समझाया था, लेकिन उसकी मां उस पर नजर रखे थी। सुबह मां के सोते समय वह घर से बाहर निकल गया। घर से 100 मीटर की दूरी पर सुयोग नगर चौक में शुभम अपार्टमेंट के तीसरे माले पर जाकर नीचे छलांग लगा दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इधर मां की नींद खुलते ही वह उसे ढूंढ़ने लगी। उसे लोगों की भीड़ दिखाई दी, तो वहां जाने पर उसे घटना की जानकारी मिली। पुलिस ने फरियादी योगेश गणेश नरांजे (31) की सूचना पर मामला दर्ज किया है। 
 

कमेंट करें
WvEfh