comScore

Fake News: भीड़ द्वारा महिला को पीटने वाला वीडियो वायरल, RSS से नहीं कोई कनेक्शन

Fake News: भीड़ द्वारा महिला को पीटने वाला वीडियो वायरल, RSS से नहीं कोई कनेक्शन

डिजिटल डेस्क। सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में एक महिला नजर आ रही है, जिसके पीछे कई लोगों की भीड़ है। दावा किया जा रहा है, वे आरएसएस के लोग है। ट्विटर पर इसे Rani Mukerji ने शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि कट्टरपंथी हिंदुओं उर्फ आरएसएस ने एक ईसाई महिला को नग्न कर पीटा और सड़कों पर घुमाया। भीड़ ने महिला का घर भी जला दिया। भारत अल्पसंख्यकों के लिए खतरनाक स्थान बनता जा रहा है। 

क्या है सच ?

भास्कर हिंदी ने अपनी पड़ताल में पाया कि किया जा रहा दावा गलत है। पड़ताल में हमें India today की एक रिपोर्ट मिली। रिपोर्ट के अनुसार यह घटना बिहार के बिहिया कस्बे की है। वीडियो में दिख रही महिला पर एक युवक की मौत के प्लानिंग में शामिल होने का आरोप था। यह वीडियो अगस्त 2018 का है। युवक की मौत के बाद भीड़ ने रेड लाइट एरिया में रहने वाली इस महिला को घर से बाहर निकाल दिया था। यह साफ है कि सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा गलत है। महिला को पीटने वाली भीड़ का आरएसएस से कोई संबंध नहीं है। 


 

कमेंट करें
FcDMS