मध्य प्रदेश: जमीनी मजबूती पर जोर देने में जुटा भाजपा संगठन

December 13th, 2021

हाईलाइट

  • विस्तार पर बीजेपी की खास योजना

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का संगठन जमीनी मजबूती की कवायद में जुटा हुआ है, इसी के तहत राज्य के 1068 मंडल की कार्यसमिति की बैठकें कर सरकार की योजनाओं को घर-घर तक पहुंचाने का संकल्प लिया गया। पार्टी ने संगठन की मजबूती के साथ विस्तार पर खास योजना बनाई है, जिस पर आगामी समय में खास जोर दिया जाएगा।

भाजपा के राज्य में 1070 मंडल है, इनमें से 1068 मंडलों में रविवार को कार्यसमिति की बैठकों का आयोजन किया गया। मंडल स्तर की इन बैठकों में तमाम बड़े नेताओं ने हिस्सा लिया। राजधानी के भगत सिंह मंडल की कार्यसमिति की बैठक में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि दिवंगत कुशाभाऊ ठाकरे जैसे महापुरुषों के त्याग और परिश्रम से मध्य प्रदेश का पार्टी का संगठन देश में आदर्श संगठन के रूप में जाना जाता है। पार्टी के हम सब कार्यकर्ता उनके जन्मशताब्दी वर्ष में यह संकल्प लें कि प्रदेश के संगठन को सबसे मजबूत संगठन बनाने के लिए काम करेंगे। केंद्र और राज्य सरकार की लोगों का जीवन बदलने वाली योजनाओं को प्रत्येक बूथ के घर-घर तक पहुंचाएंगे।

प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने आगे कहा कि पार्टी में पन्ना प्रभारी की शुरुआत मध्य प्रदेश ने की और पूरे देश ने इसको अपनाया। प्रत्येक कार्यकर्ता को संगठन के लिए समय दान करना है। मंडल स्वाबलंबी, बूथ सक्षम और नगर तथा ग्राम केंद्र सक्रिय बनें, इसके लिए काम करना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मन की बात कार्यक्रम प्रदेश के 34 हजार से अधिक बूथों पर सामूहिक रूप से सुना जा रहा है।

शर्मा ने विभिन्न योजनाओं की चर्चा करते हुए कहा, हम गरीबी हटाओ का नारा नहीं लगाते, हमारी केंद्र और प्रदेश सरकारों की योजनाएं लोगों का जीवन बदलने, जीवन स्तर उठाने का काम कर रही हैं। केंद्र सरकार ने उज्ज्वला योजना, आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री आवास जैसी योजनाएं लागू की हैं, तो प्रदेश सरकार ने लाड़ली लक्ष्मी जैसी योजना दी है। बेटियों के सशक्तीकरण के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए गए प्रयासों का ही नतीजा है कि प्रदेश में लिंगानुपात 1000 बेटों पर 956 बेटियों तक पहुंच गया है।

शर्मा ने कहा भाजपा एक विचार आधारित दल है। पं. दीनदयाल उपाध्याय ने हमें विचार दिया कि एकात्म मानव दर्शन के आधार पर यह दुनिया आगे बढ़ सकती है। जब अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति का विकास होगा जब यह देश आगे बढ़ सकता है। इसी तरह ग्वालियर के रामकृष्ण मंडल में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, सांवेर के निपानिया में मंत्री तुलसीराम सिलावट, इंदौर के सुभाष मंडल में सांसद शंकर ललवानी, उज्जैन के दीनदयाल मंडल में मंत्री मोहन यादव एवं माधव नगर में सांसद अनिल फिरोजिया एवं प्रदेश सह कोषाध्यक्ष अनिल जैन कालूहेड़ा, सागर के सदर मंडल में प्रदेश मंत्री प्रभुदयाल पटेल, मकरोनिया मंडल में प्रदेश मंत्री लता वानखेड़े ने बैठक में भाग लिया।

 

(आईएएनएस)