उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022: सपा विधायक हरिओम यादव और कांग्रेस विधायक नरेश सैनी ने थामा भाजपा का दामन

January 12th, 2022

हाईलाइट

  • झटके के बाद बीजेपी को राहत

 डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। स्वामी प्रसाद मौर्य के योगी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने और भाजपा छोड़ने के एलान के एक दिन बाद बुधवार को पलटवार करते हुए भाजपा ने सपा और कांग्रेस के मौजूदा विधायक को अपनी पार्टी में शामिल कर लिया।

बुधवार को भाजपा राष्ट्रीय मुख्यालय में समाजवादी पार्टी के मौजूदा विधायक और मुलायम सिंह यादव के समधी हरिओम यादव और कांग्रेस के मौजूदा विधायक नरेश सैनी भाजपा में शामिल हो गए। इन दोनों नेताओं के साथ ही सपा के एक अन्य नेता पूर्व विधायक डॉ धर्मपाल सिंह भी भाजपा में शामिल हो गए।

उत्तर प्रदेश भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य , उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी ने इन तीनों नेताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाई। सपा और कांग्रेस के इन तीनों नेताओं का भाजपा में स्वागत करते हुए प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने दावा किया कि भाजपा की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है।

उन्होंने केंद्र की मोदी और और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के कल्याणकारी कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा की लगातार बढ़ रही लोकप्रियता को देखते हुए इन तीनों नेताओं ने भाजपा में शामिल होने का फैसला किया है । उन्होंने उम्मीद जताया कि ये तीनों नेता भाजपा की विचारधारा के प्रति समर्पित होकर मेहनत से कार्य करेंगे और इनके आने से पार्टी और मजबूत होगी।

उत्तर प्रदेश में चुनावी घमासान अपने चरम पर पहुंच गया है। सभी राजनीतिक दल अगले कुछ दिनों में पहले और दूसरे चरण में मतदान वाले सीटों पर उम्मीदवारों की सूची को फाइनल करने में लगे हैं। यह माना जा रहा है कि अगले कुछ दिनों में राजनीतिक दलों की पहली सूची आ सकती है और यही वजह है कि राजनीतिक दलों के बीच नेताओं का आवागमन शुरू हो गया है। मंगलवार को स्वामी प्रसाद मौर्य को तोड़ कर सपा ने भाजपा को एक बड़ा झटका दे दिया था । बुधवार को सपा के 2 नेताओं को पार्टी में शामिल करवा कर भाजपा ने पलटवार करने की कोशिश की है।

 

(आईएएनएस)