शाहनवाज : बिहार को स्टार्टअप्स की राजधानी बनाएंगे

March 12th, 2022

डिजिटल डेस्क, पटना। बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार को स्टार्ट-अप्स की राजधानी बनाएंगे। बिहार के युवा अब बिहार में ही आकर स्टार्ट अप्स स्थापित करेंगे। उन्होंने कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस, सिंगल विंडो क्लीयरेंस समेत बिहार में स्टार्ट-अप्स और उद्योगों की स्थापना के लिए शानदार इकोसिस्टम बनाने के लिए लगातार कोशिशें हो रही हैं और इसमें बहुत जल्द अच्छी प्रगति देखने को मिलेगी।

पटना के ज्ञान भवन में उद्योग विभाग के सहयोग से बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन द्वारा आयोजित बिहार स्टार्टअप्स कॉन्क्लेव 2022 के उद्घाटन के मौके पर हुसैन ने शनिवार को कहा कि वह दिन दूर नहीं जब बिहार के स्टार्ट-अप्स दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद या बैंगलोर जैसे शहरों में रजिस्टर करके नहीं, बल्कि बिहार में रजिस्टर कर ऑपरेट करेंगे। इस कॉन्क्लेव में बिहार ही नहीं बल्कि विभिन्न राज्यों के भी एंजेल इन्वेस्टर्स और वेंचर कैपिटलिस्ट्स ने हिस्सा लिया। इस मौके पर आए निवेशकों ने 8 लाख से लेकर 60 लाख रुपए तक का निवेश का चेक बिहार की स्टार्टअप कंपनियों को सौंपा।

उन्होंने कहा कि बिहार को लेकर निवेशकों की धारणा भी अब पूरी तरह बदल गई है। उन्होंने कहा कि बिहार के युवा जब दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद या विदेशों में स्टार्टअप्स बहुत अच्छे से चला रहे हैं तो वे अपनी जन्मभूमि में स्टार्ट अप्स क्यों नहीं चला सकते। इस कॉन्क्लेव में बिहार की स्टार्ट अप कंपनियों को एंजेल इन्वेस्टर्स से लाखों की सौगात भी मिली। बिहार और बिहार के बाहर के निवेशकों ने बिहार की स्टार्टअप कंपनियों में जमकर फंडिंग और 8 लाख से लेकर 60 लाख तक की रकम के चेक उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन के द्वारा स्टार्ट अप कंपनियों को सौंपे गये।

बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार की स्टार्टअप पॉलिसी के तहत यहां स्टार्ट अप्स को पूरी मदद दी जा रही है। बिहार की 700 से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों के प्रतिनिधियों और युवा उद्यमियों को संबोधित करते हुए बिहार के उद्योग मंत्री ने कहा कि बिहार के स्टार्ट अप को कैपेसिटी बिल्डिंग और प्रशिक्षण की सुविधा दिए जाने के लिए उद्योग विभाग के साथ राज्य सरकार ने आईआईटी, एनआईटी, डीएमआई, सीआईएमपी जैसे 16 इन्क्यूबेटर्स को ये जिम्मा सौंपा है।

(आईएएनएस)