दैनिक भास्कर हिंदी: कॉमनवेल्थ गेम्स 2018: बैडमिंटन स्टार पी वी सिंधू होंगी भारत की ध्वजवाहक

March 24th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधू आगमी कॉमनवेल्थ गेम्स के उदघाटन समारोह में भारतीय दल की ध्वजवाहक होंगी। अगले माह 4 अप्रैल को ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट के करारा स्टेडियम में यह उदघाटन समारोह आयोजित किया जाना है। भारतीय ओलम्पिक संघ के सूत्रों के अनुसार 2016 रियो ओलम्पिक की रजत पदक विजेता रहीं सिंधू को यह जिमीदारी सौंपी गई है।

हैदराबाद की बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू से इस बार कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को बड़े पदक की उम्मीद है। सूत्रों के अनुसार भारतीय दल दल की अगुवाई करने की इस दौड़ में मैरीकॉम और सेना नेहावाल का भी नाम शामिल था।  लेकिन पिछले सप्ताह ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप के सेमी-फाइनल तक पहुंचने वाली सिंधू को भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) की एक बैठक के बाद चुना गया। एसोसिएशन के अधिकारी ने कहा, 'सिंधु की उपलब्धियां अधिक ताजा हैं और फिलहाल वह देश के सर्वश्रेष्ठ एथलीटों में शामिल हैं। इसलिए हमने उन्हें ध्वजवाहक चुना है।'


स्वर्ण पदक की प्रबल दावेदार हैं सिंधू 
भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन ने 22 वर्षीय सिंधू को लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के ईनाम के तौर पर यह कार्यभार सौंपा है। दुनिया की तीसरे नंबर की खिलाड़ी सिंधू कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक की प्रबल दावेदार है। बता दें ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में सिंधू ने महिला एकल में कांस्य पदक जीता था। इससे पहले पिस्टल निशानेबाज विजय कुमार को 2014 में भारतीय दल का ध्वजवाहक बनाया गया था। वहीं 2008 के ओलंपिक चैम्पियन निशानेबाज अभिनव बिंद्रा 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में ध्वजवाहक बनाए गए थे।

मेलबर्न राष्ट्रमंडल खेल में भारत के ध्वजवाहक डबल ट्रैप निशानेबाज राज्यवर्धन सिंह राठौड़ थे जो वर्तमान में खेलमंत्री है। बता दें अगले माह ऑस्ट्रलिया में आयोजित हो रहे कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की तरफ से 220 खिलाड़ियों का दल उतरेगा। इस बार भारत के खिलाड़ी 15 खेलों में हिस्सा लेंगे।