दैनिक भास्कर हिंदी: टैक्स फ्रॉड केस : स्पेनिश कोर्ट से रोनाल्डो की डील, अब नहीं जाना होगा जेल

January 23rd, 2019

हाईलाइट

  • जुवेंटस के स्टार फुटबॉल खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो मंगलवार को स्पेन पहुंचे।
  • टैक्स फ्रॉड मामले पर स्पेनिश कोर्ट ने उनपर 18.8 मिलियन यूरो का फाइन लगाया है।
  • रोनाल्डो को जेल नहीं जाने के लिए एक्सट्रा 3.2 मिलियन यूरो भरने होंगे।

डिजिटल डेस्क, मैड्रिड। टैक्स फ्रॉड का आरोप झेल रहे जुवेंटस के स्टार फुटबॉल खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो मंगलवार को स्पेन पहुंचे। स्पेनिश कोर्ट ने टैक्स फ्रॉड मामले में उन पर 18.8 मिलियन यूरो का फाइन लगाया था। कोर्ट ने रोनाल्डो पर यह फाइन उनके रियल मैड्रिड क्लब से खेलने के दौरान टैक्स नहीं भरने के कारण लगाया था। इसके साथ ही रोनाल्डो को 23 महीने की जेल की सजा भी सुनाई गई थी। इसी सिलसिले में वह मंगलवार को स्पेन पहुंचे थे। इस दौरान रोनाल्डो ने जेल नहीं जाने को लेकर एक डील की है। इस डील के अनुसार रोनाल्डो को जेल नहीं जाने के लिए एक्सट्रा 3.2 मिलियन यूरो भरने होंगे।

रोनाल्डो अपनी गर्लफ्रेंड जॉर्जिना रॉड्रिगेज के साथ स्पेन पहुंचे थे। स्पेनिश कोर्ट से निकलते ही वह मीडिया से भी रुबरू हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि 'मैं बिलकुल ठीक हूं। मैंने कभी कोई बात छुपाई नहीं है। मेरा कभी भी टैक्स भरने से भागने का कोई मकसद नहीं रहा है। मुझे यह भी मंजूर है।' अपने पुराने घर मैड्रिड पहुंचे रोनाल्डो करीब 40 मिनट तक कोर्ट में रहे। इस दौरान उन्होंने जेल नहीं जाने को लेकर ऑफर को स्वीकार लिया। इसके लिए रोनाल्डो को 18.8 मिलियन यूरो के अलावा 3.2 मिलियन यूरो भरने होंगे। सोमवार को जुवेंटस बनाम किएव मैच खेलने वाले रोनाल्डो ने इससे पहले स्पेनिश कोर्ट से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए या फिर कार से कोर्ट में एंट्री करने की अपील की थी। रोनाल्डो ने कहा था कि वह स्पॉटलाइट से बचना चाहते हैं। इस अपील को कोर्ट ने ठुकरा दिया था।

रोनाल्डो पर आरोप है कि उन्होंने साल 2011 से 2014 के बीच रियाल मैड्रिड क्लब की ओर से खेलते हुए जानबूझकर अपनी कमाई कम दिखाई थी। जांच के दौरान यह चोरी पकड़ी गई थी। इसके बाद पिछले साल जून में स्पैनिश टैक्स अथॉरटी ने उनपर 2 साल की सजा और 18.8 मिलियन डॉलर का जुर्माना लगाया था। हालांकि रोनाल्डो ने अपनी गलती स्वीकार कर ली थी और फाइन भरने का भी वादा किया था। इसके अलावा रोनाल्डो पर रेप का भी आरोप लगा था। हालांकि रोनाल्डो ने इसे झूठा बताया था। 

रोनाल्डो टैक्स चोरी का आरोप झेलने वाले पहले खिलाड़ी नहीं हैं। उनसे पहले बार्सिलोना के स्‍टार फुटबॉलर लियोनल मेसी को भी टैक्स चोरी के मामले में सजा सुनाई जा चुकी है। साल 2016 में मेसी को 4.7 मिलियन डॉलर के टैक्स चोरी के मामले में दोषी पाया गया था। तब उन्हें 21 महीने की जेल की सजा सुनाई गई थी। हालांकि बाद में मेसी की सजा के बदले उन्हें 2 करोड़ रुपए जुर्माना चुकाने के निर्देश दिए गए थे तब मेसी ने कोर्ट में दलील थी कि उन्हें टैक्स चोरी के बारे में कोई जानकारी नहीं है और उन्होंने जानबूझकर ऐसा नहीं किया है। मेसी ने टैक्स चोरी के मामले को उनके खिलाफ साजिश बताया था। 

बता दें कि फोर्ब्स मैगजीन के अनुसार 33 वर्षीय रोनाल्डो दुनिया के तीसरे सबसे अमीर खिलाड़ी हैं। वह हर साल 108 मिलियन डॉलर की कमाई करते हैं। 9 साल तक रियल मैड्रिड से खेलने के बाद पिछले साल रोनाल्डो ने  इस क्लब का साथ छोड़ दिया था। उन्होंने इटेलियन क्लब जुवेंटस से चार साल की नई डील साइन की थी। रोनाल्डो को 100 मिलियन यूरो (करीब 8 अरब रुपए) की ट्रांसफर फीस पर जुवेंटस ने रियल मैड्रिड से खरीदा है।

रोनाल्डो ने 2009 में स्पेनिश क्लब रियल मैड्रिड ज्वाइन किया था। इससे पहले वह 6 साल मैनचेस्टर यूनाइटेड के लिए खेल चुके हैं। उन्होंने मैड्रिड की तरफ से 4 चैंपियंस लीग, 2 लीग चैंपियंशिप, 2 स्पैनिश कप और 3 फीफा क्लब वर्ल्डकप्स खिताब जीते हैं। रोनाल्डो, रियल मैड्रिड क्लब के रिकॉर्ड स्कोरर भी रहे हैं। उन्होंने इस क्लब के लिए 438 मैचों में 451 गोल किए हैं। साथ-साथ 4 Ballon d’Ors और 3 गोल्डन बूट भी जीते हैं।

खबरें और भी हैं...