दैनिक भास्कर हिंदी: CWG 2018: समापन समारोह में मैरी कॉम थामेंगीं तिरंगा

April 15th, 2018

डिजिटल डेस्क, गोल्ड कोस्ट। 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के समापन समारोह में भारत की दिग्गज मुक्केबाज एम सी मैरी कॉम भारत की ध्वजवाहक होंगी। मैरीकॉम ने इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में डेब्यू करते हुए स्वर्ण पदक जीता था। 35 साल की मैरीकॉम ने 9वें दिन लाइट फ्लाइवेट (48 किग्रा ) के फाइनल में उत्तरी आयरलैंड की क्रिस्टीना ओहारा को हराकर गोल्ड मेडल हासिल किया था। 

 

Image result for MARY KOM

 

ध्वजवाहक बनने पर जताई खुशी 

 

समापन समारोह में भारत का ध्वजवाहक बनने पर एम सी मैरी कॉम ने खुशी जाहिर की है। मैरी कॉम ने कहा कि वो पहली बार इस तरह की प्रतियोगिता में भारत की ध्वज वाहक बनेंगीं, उन्हें नहीं पता कि वो इसकी हकदार हैं कि नहीं लेकिन निश्चित तौर पर उन्हें इसका गर्व है। पांच बार की एशियाई चैंपियन मेरी कॉम ने पिछले पांच महीने में तीन स्वर्ण पदक जीते हैं। 

 

Related image

 

ओपनिंग सेरेमनी में सिंधु थीं ध्वजवाहक

 

21वें कॉमनवेल्थ गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी में रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु भारत की ध्वजवाहक बनीं थी और हाथों में तिरंगा लिए भारतीय दल की अगुवाई की थी। ओपनिंग सेरेमनी में जब भारतीय दल ने स्टेडियम में कदम रखा था तो सारा स्टेडियम तालियों से गूंज उठा था। 

 

 

तीसरे नंबर रहा भारत 

21वें कॉमनवेल्थ खेलों  में भारत ने शानदार प्रदर्शन किया है और वो 66 पदक हासिल कर पदक तालिका में तीसरे नंबर पर रहा है। भारत के 66 पदकों में 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल शामिल हैं। भारत के खेलों के इतिहास में ये तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है और भारत गोल्ड कोस्ट में साल 2014 में ग्वास्गो गेम्स के अपने प्रदर्शन 64 पदक को पीछे छोड़ने में कामयाब रहा है। हालांकि भारत साल 2002 में मैनचेस्टर में हुए खेलों के 69 पदक के रिकॉर्ड से कुछ पीछे जरुर रह गया।भारत ने साल 2010 में दिल्ली में हुए खेलों में 101 मेडल हासिल किए थे जो कॉमनवेल्थ गेम्स में अब तक का उसका सबसे अच्छा प्रदर्शन है।