दैनिक भास्कर हिंदी: शास्त्री की बातों पर ध्यान न दें, पता नहीं वह कब क्या कह देते हैं : सौरभ गांगुली

September 9th, 2018

हाईलाइट

  • टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने एक बार फिर भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री पर हमला बोला है।
  • गांगुली ने कहा कि शास्त्री की 15-20 वर्षों में सबसे अच्छी टीम वाली बात बिलकुल बेतुकी है।
  • गांगुली ने कहा कि लोगों को शास्त्री के बातों पर ध्यान नहीं देना चाहिए।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने एक बार फिर भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री पर हमला बोला है। गांगुली ने कहा है कि शास्त्री की 15-20 वर्षों में सबसे अच्छी टीम वाली बात बिल्कुल बेतुकी है। उन्होंने कहा कि लोगों को शास्त्री की बातों पर ध्यान नहीं देना चाहिए। शास्त्री के अंदर अपरिपक्वता है, जो उनकी बातों में झलकती है।

गांगुली ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा, 'भारतीय टीम हमेशा से अच्छी रही है। भारतीय टीम ने अलग-अलग दौर में कई महान खिलाड़ी दिए। चाहे वह सचिन हों या द्रविड़ या धोनी हों, हम सभी भारतीय टीम के लिए खेले हैं। हमारा लक्ष्य बस देश के लिए खेलना और उसे जीत दिलाने का होता था। अभी की टीम में भी कुछ शानदार खिलाड़ी हैं। हम उन्हें भी समर्थन करते हैं, लेकिन अलग-अलग दौर के अलग-अलग खिलाड़ियों की तुलना करना सरासर गलत है।

गांगुली ने शास्त्री पर चुटकी लेते हुए कहा, 'मैं नहीं चाहता लोग उनकी बातों पर ध्यान दें। किसी को नहीं पता वह कब क्या कह देते हैं। मैं बस यह चाहता हूं कि भारत आखिरी टेस्ट मैच में अच्छा खेले और जीत हासिल करे।'  गांगुली इससे पहले भी शास्त्री पर निशाना साध चुके हैं। गांगुली ने गुरुवार को ही खुलासा किया था कि कोच शास्त्री की वजह से राहुल द्रविड़ ने भारतीय टीम के लिए बल्लेबाजी सलाहकार बनने से मना कर दिया था।

बता दें कि रवि शास्त्री ने बुधवार को कहा था कि मौजूदा टीम पिछले 15-20 वर्षों में विदेशी धरती पर सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाली भारतीय टीम है। उन्होंने कहा था, 'मुझे नहीं याद आता कि पिछले 15-20 वर्षों में किसी और भारतीय टीम ने इतने कम वक्त में इतना शानदार प्रदर्शन किया हो। ऐसा नहीं है कि उस दौरान कोई महान खिलाड़ी नहीं था। पिछले 20 सालों में कई महान खिलाड़ी खेला करते थे, पर अभी की टीम बेस्ट है। हमारे पास प्रतिभा है लेकिन हमें मानसिक रूप से दृढ़ होने की आवश्यकता है।'

शास्त्री के इस बयान पर बहुत से पूर्व खिलाड़ियों ने उनकी आलोचना की थी। गांगुली की प्रतिक्रिया से पहले गावस्कर भी शास्त्री को आड़े हाथों ले चुके हैं। गावस्कर ने गुरुवार को कहा था कि शास्त्री का यह कहना कि उनकी टीम का रिकॉर्ड पिछले 15-20 सालों की टीमों की तुलना में बेहतर है, बिल्कुल निराधार है। भारत ने इससे पहले भी कई बार इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया की जमीन पर जीत हासिल की है। उन्होंने कहा, 'मैं बस इतना कह सकता हूं कि श्रीलंका में वर्तमान भारतीय टीम जीती, यह अच्छी बात है। यहां ज्यादा भारतीय कप्तानों ने मैच नहीं जीते हैं, लेकिन हमने इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट मैच जीते हैं। मुझे लगता है कि यह उनके देखने का नजरिया है और केवल वह ही इस बारे में बता सकते हैं।'


 

खबरें और भी हैं...