दैनिक भास्कर हिंदी: सहवाग ने बिंदास कहा- मुझे टीम इंडिया का कोच बनना ही नहीं था, मजबूरी में किया आवेदन

September 16th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दो महीने पहले ही टीम इंडिया को नया हेड कोच रवि शास्त्री के रूप में मिला है। इस मुख्य कोच पद की दौड़ में टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग भी शामिल थे, पर वे इस पद के लिए नहीं चुने गए। इस मसले पर सहवाग ने अपने बिंदास अंदाज में एक बयान दे कर सीधे तौर पर रवि शास्त्री के सिलेक्शन पर उंगली उठाई है। सहवाग ने कहा कि उनकी BCCI में कोई सेटिंग नहीं थी। अगर BCCI में ‘सेटिंग’ होती तो टीम इंडिया का कोच होता।

सहवाग ने यह बात एक टीवी शो में कही। शो में उनसे पूछा गया कि रवि शास्त्री से आपके पिछड़ने की बड़ी वजह क्या है। इसी सवाल के जवाब में उन्होंने यह जवाब दिया था। सहवाग ने इस दौरान यह भी कहा कि यदि उन्हें मालूम होता कि टीम इंडिया के हेड कोच पद के लिए रवि शास्त्री भी अप्लाई कर रहे हैं तो मैं इस पद के लिए आवेदन नहीं करता।

वीरु ने इस दौरान कुछ चौंकाने वाली बातें भी कही। उन्होंने कहा कि 'मैंने अपनी मर्जी से नहीं, बल्कि BCCI के मेंबर्स के कहने के बाद इस पोस्ट के लिए अप्लाई किया था।' उन्होंने बताया कि BCCI के सचिव अमिताभ चौधरी के कहने पर मैंने हेड कोच के लिए अप्लाई किया था। सहवाग ने यह भी कहा कि उनका इस जॉब को लेकर कोई खास इंट्रेस्ट नहीं था।

टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली का नाम लेते हुए सहवाग ने कहा कि उन्होंने कोच पद के लिए अप्लाई करने से पहले कोहली और रवि शास्त्री से भी मुलाकात की थी, उस वक्त शास्त्री ने मुझे यह बताया था कि वे इस रेस में शामिल नहीं हैं।