दैनिक भास्कर हिंदी: कुछ इस तरह थी नेहरा के आखिरी ओवर की वो 7 बॉलें, देखें Video

November 2nd, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। आशीष नेहरा, एक ऐसा नाम, जिसे सुनते ही अच्छे-अच्छे बैट्समैन घबरा जाएं। 1999 में अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत करने वाले आशीष नेहरा ने बुधवार को इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरमेंट ले लिया। न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला गया सीरीज का पहला टी-20 नेहरा के करियर का आखिरी मैच रहा।  इस मैच में इंडिया की तरफ से पहला ओवर भी नेहरा ने ही डाला और आखिरी ओवर भी। इस मैच में आशीष नेहरा ने 4 ओवर फेंके, लेकिन विकेट लेने में नाकामयाब रहे। हालांकि नेहरा के ओवर में 2 कैच भी छूटे, नहीं तो उनके नाम भी विकेट रहता। अपने आखिरी मैच के आखिरी ओवर में नेहरा ने जिस तरह की बॉलिंग की, उसे देखकर ऐसा लग रहा था, कि नेहरा को अभी और खेलना चाहिए था। आइए जानते हैं, कैसी रही नेहरा के करियर की वो लास्ट 6 बॉल्स? 

 

फर्स्ट बॉल : नेहरा ने सोढ़ी को बॉल डाली। स्विप शॉट खेलने की कोशिश, लेकिन चूक गए। 

सेकंड बॉल : नेहरा की अगली बॉल पर फिर सोढ़ी ने पुल शॉट खेलने की कोशिश की, लेकिन इस बार भी मिस कर गए। 

थर्ड बॉल : नेहरा की तीसरी बॉल पर सोढ़ी ने स्ट्रेट डाउन चिप्ड शॉट लगाकर चौका मारा। 

फोर्थ बॉल : अगली बॉल वाइड हो गई और न्यूजीलैंड को 1 रन एक्स्ट्रा मिला। 

फिफ्थ बॉल : नेहरा ने शॉर्ट बॉल की, जिसपर सोढ़ी ने पुल शॉट खेलने की कोशिश की, लेकिन बॉल पैर में लगकर चली गई। इस तरह से न्यूजीलैंड को 1 रन लेगबाय के रुप में मिला। 

सिक्स्थ बॉल : मिशेल सैंटनर को नेहरा ने सिक्स्थ बॉल डाली, जिसपर सैंटनर 1 रन लेने में कामयाब रहे। 

सेवंथ बॉल : अपने करियर की आखिरी बॉल नेहरा ने फुलटॉस की, लेकिन सोढ़ी उसे मिस कर गए और कोई रन नहीं बना सके। 

नेहरा के हर आखिरी मैच में जीती है टीम

आशीष नेहरा के इंटरनेशनल क्रिकेट का अंत उनके होम ग्राउंड से हुआ। जहां नेहरा का बचपन बीता और जिस ग्राउंड से उन्होंने क्रिकेट खेलना शुरू किया, उसी ग्राउंड पर अपना आखिरी मैच भी खेला। अपने 18 साल के करियर में नेहरा इंजरी के कारण टीम से अंदर-बाहर होते रहे, लेकिन जब भी खेले बढ़िया खेले। नेहरा जी के करियर की खास बात ये रही कि उनके टेस्ट, वनडे और टी-20 सभी फॉर्मेट के आखिरी मैच में टीम इंडिया को जीत मिली है। साल 2004 में जब नेहरा ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना आखिरी टेस्ट खेला, तब भी टीम इंडिया जीती। पाक के खिलाफ टीम इंडिया की ये पहली टेस्ट सीरीज जीत थी। इसके बाद 2011 के अपने आखिरी वनडे में भी टीम इंडिया, पाकिस्तान के खिलाफ जीता था। बुधवार को भी न्यूजीलैंड से टी-20 में कभी नहीं जीत पाई टीम इंडिया, नेहरा के आखिरी मैच में 53 रन से जीत गई।