comScore

US OPEN 2019: नडाल 8वीं बार टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में, श्वार्टजमैन को दी मात

US OPEN 2019: नडाल 8वीं बार टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में, श्वार्टजमैन को दी मात

हाईलाइट

  • नडाल ने क्वार्टर फाइनल में अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्टजमैन को 6-4, 7-5, 6-2 से हराया
  • नडाल का सेमीफाइनल में मुकाबला इटली के माटेओ बेरेटिनी से होगा

डिजिटल डेस्क। स्पेन के स्टार टेनिस खिलाड़ी राफेल नडाल ने गुरुवार को साल के चौथे यूएस ओपन टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। नडाल ने 8वीं बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश किया है। तीन बार के टूर्नामेंट के चैंपियन रह चुके नडाल ने मेंस सिंगल्स के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्टजमैन को 6-4, 7-5, 6-2 से मात देकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की है। वर्ल्ड नंबर-2 नडाल और वर्ल्ड नंबर-20 डिएगो के बीच यह मुकाबला 2 घंचे 46 मिनट तक चला। अब नडाल का सेमीफाइनल में मुकाबला इटली के माटेओ बेरेटिनी से होगा। 

अब तक 18 ग्रैंड स्लैम का खिताब जीत चुके नडाल के लिए यह टूर्नामेंट अब आसान हो गया है। क्योंकि वर्ल्ड नंबर-1 नोवाक जोकोविच और वर्ल्ड नंबर-3 रोजर फेडरर पहले ही टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं। वहीं 23 साल के बेरेटिनी ने पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के सेमीफाइनल में जगह बनाई है। उन्होंने क्वार्टर फाइनल में वर्ल्ड नंबर-13 फ्रांस के गेल मोनफिल्स को करीब 4 घंटे तक चले मुकाबले में 3-6, 6-3, 6-2, 3-6, 7-6 (7-5) से मात दी।

यूएस ओपन के एक अन्य सेमीफाइनल में बुल्गारिया के गैरवरीय ग्रिगोर दिमित्रोव का सामना रूस के डैनिल मेडवेडेव से होगा। दिमित्रोव ने क्वार्टर फाइनल में वर्ल्ड नंबर-3 रोजर फेडरर को करारी शिकस्त दी थी। उधर, दमदार फॉर्म में चल रहे मेडवेडेव ने क्वार्टर फाइनल में स्विट्जरलैंड के स्टैन वावरिंका को मात देकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया है। 

कमेंट करें
YQyXU
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।