• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Friendship for 40 years is like two bodies one soul, this friendship is a symbol of communal harmony

छिंदवाड़ा: 40 साल से दोस्ती ऐसी जैसे दो जिस्म एक जान, साम्प्रदायिक सौहर्द की मिसाल है यह मित्रता

August 7th, 2022

डिजिटल डेस्क,छिंदवाड़ा। दोस्ती का रिश्ता एक ऐसी डोर से बंधा होता है जिसे शब्दों में नहीं बांधा जा सकता है। छिंदवाड़ा जिले में सौंसर के रामाकोना ग्राम में दोस्तों की जोडिय़ों की परंपरा चली आ रही है। इसमें 70 वर्ष के बुजुर्ग उमराव वाहने और 52 वर्ष के मुन्नाभाई अब्दुल जब्बार कलाम की जोड़ी को दोस्ती के साथ ही सामाजिक एकता व सौहार्द की मिसाल के रूप में देखी जाती है। 40 साल पुरानी दोस्ती के संबध में मुन्ना भाई बताते है कि वाहने के परिवार में उनके पिता जब्बार भाई के समय से पारिवारिक संबंध हैं। वैसे तो वे मेरे चाचा लगते है लेकिन वैचारिक रूप से हम दोनों के बीच का पहला रिश्ता दोस्ती का है, और हमारी पहचान भी दोस्ती के रुप में है। दोस्ती होने का मुख्य कारण बताते हुए श्री वाहने कहते हैं कि समाज सेवा के शौक के चलते पांच शासकीय विभागों की नौकरियां छोड़ दी और खेती करने लगा। मुन्नाभाई में समाज सेवा के जुनुन के चलते हमारे बीच का रिश्ता दोस्ती में बदलते चला गया और आज यही दोस्ती का रिश्ता दो जिस्म एक जान होने की गहाराई तक है। हर पल, हर घड़ी सभी परिस्थितियों में हम साथ रहते हैं। वाहने व मुन्नाभाई कहते है कि जात पात कि दीवार हमारी दोस्ती के बीच कभी खड़ी नहीं हो पाई।

खबरें और भी हैं...