comScore

Heavy rain update: मध्य प्रदेश में एक बार फिर तेज बारिश का सिलसिला शुरू, कई नदी नाले उफान पर, सीएम ने की बैठक

Heavy rain update: मध्य प्रदेश में एक बार फिर तेज बारिश का सिलसिला शुरू, कई नदी नाले उफान पर, सीएम ने की बैठक

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश का दिल कहा जाने वाला मध्यप्रदेश इन दिनों मूसलाधार बारिश से तरबतर है। इसका कारण है बंगाल की खाड़ी में बना सिस्टम, जिसके चलते एक बार फिर से प्रदेश में तेज बारिश का सिलसिला शुरू हो गया है। राजधानी भोपाल समेत प्रदेशभर में शुक्रवार की रात भारी बारिश हुई। इससे कई​ जिलों में जलभराव की स्थिति भी बन गई है। मौसम विभाग ने भोपाल सहित अन्य जिलों में तेज बारिश की संभावना जताते हुए रेड अलर्ट जारी कर दिया है। इन जिलों में हाेशंगाबाद नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, बालघाट, सिवनी, बैतूल शामिल हैं। 

मुख्यमंत्री ने की की बैठक
भारी बारिश के बाद प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य में आई बाढ़ को लेकर हालात का जायजा लेने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की है। इसमें सूबे में बाढ़ से निपटने और विस्थापित लोगों की मदद के लिए उपायों पर चर्चा की जाएगी।

मौसम विभाग के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बना लाे प्रेशर एरिया वेल मार्क लाे यानी अति कम दबाव के क्षेत्र के रूप में बदलकर ओडिशा, झारखंड, छत्तीसगढ़ हाेता हुआ मप्र के पूर्वी हिस्से में पहुंच गया। इसका असर प्रदेश की राजधानी सहित मप्र के पश्चिमी हिस्से में भी हुआ है। आइए जानते हैं आज सबसे जयादा कहां और कितनी हुई बारिश...

DRDO गेस्ट हाउस पहुंचे सिद्धार्थ पिठानी, नीरज और केशव

जिला    

बारिश (Mm)

छिंदवाड़ा

242.4 मिमी

सिओनी  

209.8 मिमी

होशंगाबाद

208.8 मिमी

नर्सिंगपुर

193.0 मिमी

बालाघाट

152.5 मिमी

मंडला

95.8 मिमी

टीकमगढ़

85.0  मिमी

दमोह

77.0  मिमी

कटनी

69.0 मिमी

जबलपुर

68.1 मिमी

डिंडौरी

53.0 मिमी

सीहोर

84.2 मिमी

भोपाल

80.9 मिमी

तेज बारिश से परेशानी
तेज बारिश के चलते नरसिंहपुर में नदी-नालों का पानी कॉलोनियों में घुस गया, ऐसे में यहां रहवासियों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं होशंगाबाद में रात 12 बजे नर्मदा का जलस्तर 963 फीट पर पहुंच गया। रायसेन जिले में बारना पुल पर पानी आने से जयपुर-जबलपुर मार्ग बंद हो गया जबकि बरेली में निचली बस्तियों में पानी भरने से 40 लोगों को स्कूल में शिफ्ट किया गया। विदिशा में बीना और बावना नदी भी उफान पर हैं। 

आज पहली बार वर्चुअल सेरेमनी में दिए जाएंगे नेशनल स्पोर्ट्स अवॉर्ड

छिंदवाड़ा में नदियों का पानी सड़कों पर आने से सभी रास्ते बंद हो गए हैं। खरगोन जिले के बड़वा में भारी बारिश के चलते नर्मदा के जल घाट पर स्थित साई मंदिर तक पानी पहुंच गया है। ऐसे में नर्मदा तट से सटे पंचायत क्षेत्रों में अलर्ट जारी कर पुलिस, गोताखोर व नाविकों को मुस्तैद रखा गया है। इसी तरह छिंदवाड़ा-नागपुर मार्ग पर गहरानाला उफान पर होने से रोड बंद रहा और छतरपुर के आसपास के सभी रास्ते बंद रहे। जबकि नरसिंहपुर मार्ग पर सिंगोड़ी के समीप बने पेंच नदी के पुल के ऊपर पानी जाने के बाद इस मार्ग का भी संपर्क जिले से टूट गया। 

इन बांधों के गेट खुले
बरगी 422 मीटर 17 गेट
तवा 354.82 मीटर 13 गेट
बारना 347 मीटर 8 गेट
इंदिरा सागर 264.4 मीटर 12 गेट
ओंकारेश्वर 195.12 मीटर 21 गेट

कमेंट करें
NjBOC