IND vs NZ: फिर जीवंत हुई पुरानी परंपरा, गावस्कर ने श्रेयस को पहनाया टेस्ट डेब्यू का कैप

November 25th, 2021

हाईलाइट

  • अनिल कुंबले ने शुरू की थी परंपरा
  • द्रविड़ ने गावस्कर को दिया न्यौता
  • फिर से शुरू हुई पुरानी परंपरा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कानपुर के ग्रीन पार्क स्‍टेडियम में आज यानी कि गरुवार को भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्‍ट मैच खेला जा रहा है। वहीं न्यूजीलैंड के खिलाफ टॉस से पहले द्रविड़ ने एक बार फिर से पुरानी परंपरा को जीवंत कर दिया। इस दौरान, अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने श्रेयस अय्यर को भारत की ‘टेस्ट कैप’ प्रदान की। 

यह एक पुरानी परंपरा है, जिसमें भारतीय क्रिकेट के दिग्गजों से नए खिलाड़ियों को यह प्रतिष्ठित कैप (टोपी) दिलाई जाती है। द्रविड़ ने गावस्कर को इस विशेष कार्यक्रम के लिये आमंत्रित किया था।  

पेन आस्ट्रेलिया टीम के एक अच्छे खिलाड़ी है, उन्हें पूरी टीम का समर्थन है: मार्कस हैरिस

क्या है परंपरा
आपको बता दें कि, भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने वाले खिलाड़ियों को पूर्व क्रिकेटरों से कैप सौंपने की प्रथा अनिल कुंबले ने शुरू की थी। तब अनिल कुंबले भारत के हे़ड कोच हुआ करते थे। परंपरा के तहत डेब्‍यू कर रहे खिलाड़‍ियों को कैप देने के लिए दिग्‍गज क्रिकेटर्स को बुलाया जाता था।

लेकिन कोहली शास्त्री युग में यह परंपरा खत्म हो गई थी। इन दोनों के समय में टीम के खिलाड़ी ही डेब्यू करने वाले क्रिकेटरों को कैप दे दिया करते थे। लेकिन कोच राहुल द्रविड़ ने आते ही इस परंंपरा को एक बार फिर से लौटाया है। 

हैरान हूं, भारत ने कोहली को पहले टेस्ट में आराम क्यों दियास्मिथ

गुरुवार को श्रेयस अय्यर को टेस्‍ट कैप देने के लिए सुनील गावस्‍कर को न्‍योता दिया। इससे पहले टी20 श्रृंखला के दौरान द्रविड़ ने हर्षल पटेल को राष्ट्रीय टीम की कैप प्रदान करने के लिए अजित अगरकर को आमंत्रित किया था।